बिलासपुर

बिलासपुर: एक साथ 14 कर्मचारियों को बिल्हा सीईओ का फरमान…थमाया नोटिस लापरवाही को लेकर मांगा जवाब… 

बिलासपुर। मुख्य कार्यपालन अधिकारी बिल्हा जनपद पंचायत ने एक साथ 14 नोडल अधिकारियों और सचिवों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। नोटिस में गौठान दिवस पर की गयी चूक को लेकर नाराजगी जाहिर किया गया है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी बीआर वर्मा ने सभी सचिवों और नोडल अधिकारियों से तीन दिन के अन्दर लिखित स्पष्टीकरण देने को कहा है।

जानकारी देते चलें कि शासन की महति योजना गौठान को प्रोत्साहित करने शासन स्तर पर कई प्रकार के अभियान चलाए जा रहे हैं। इसी क्रम में बिल्हा जनपद पंचायत की तरफ से शासन के निर्देश पर दीपावली के बाद गोवर्धन पर्व पर गौठान दिवस मनाने का फरमान जारी किया गया। साथ ही यह भी निर्देश दिया गया कि पंचायत के जनप्रतिनिधियों को कार्यक्रम में शामिल होने के लिए विशेष निवेदन करने को कहा गया। बावजूद इसके बिल्हा क्षेत्र में सीईओ के आदेश की सचिव और अधिकारियों को सरेआम धज्जियां उड़ाते देखा गया।

मामले में बिल्हा ब्लॉक के जनप्रतिनिधियों ने गोवर्धन पूजा पर आयोजित गौठान दिवस कार्यक्रम की सूचना नहीं दिए जाने पर नाराजगी जाहिर की है। इस बात को लेकर जिला पंचायत के सदस्य समेत जनप्रतिनिधियों ने जनपद पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी को अवगत कराया। मामले को संज्ञान में लेते हुए बीआर वर्मा ने सात नोडल अधिकारी और इतने ही सचिवों से स्पष्टीकरण मांगा है।

जनप्रतिनिधियों ने बताया कि गौठान भूपेश सरकार की महत्वपूर्ण और ड्रीम प्रोजेक्ट है। गौठानों के महत्व और उपयोगिता को लेकर शासन ने गोवर्धन पूजा पर गौठान दिवस मनाने का फरमान भी जारी किया है। बावजूद इसके नोड़ल अधिकारी और सचिवों ने शासन के फरमान को गंभीरता से नहीं लिया है। इससे जाहिर होता है कि जिम्मेदार लोग मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। यही कारण है कि जनप्रतिनिधियों को गौठान दिवस कार्यक्रम से दूर रखा गया। मामले की शिकायत बिल्हा जनपद के मुख्यपालन अधिकारी से किया गया है। उन्होने मामले को गंभीरता से लिेए जाने की बात कही है। यदि कार्यक्रम के जिम्मेदार लोगों पर सख्त कार्रवाई नहीं हुई तो जिला पंचायत के सामान्य सभा मे प्रस्ताव पारित कर इनके निलंबन की कार्यवाही की जायेगी।

जनप्रतिनिधियों ने बताया कि गोवर्धन पूजा पर नियुक्त नोडल अधिकारी और सचिवों ने ना तो गौठान दिवस कार्यक्रम को गंभीरता से लिया और ना ही सचिवों ने जनप्रतिनिधियों को जानकारी देने के लिए किया ।

इ्न्हें जारी किया गया फरमान

मुख्यकार्यपालन अधिकारी बिल्हा जनपद पंचायत बीआर वर्मा ने अलग अलग पंचायतों के गौठान नोडल अधिकारियों को जवाब मांगा है। नोडल अधिकारी प्रिया यादव, एसपी तिवारी,वर्षा देवांगन,वंदना पाण्डेय, पूर्वा गुप्ता,छाया ध्रुव समेत सचिव प्रीति वैस, भानुप्रताप विश्वकर्मा, धनश्याम पटेल,भागीरथी कौशिक,अजय कुमार डोंगरे,बाबूलाल टंडन और निशा बंजारे को कारण बताओं नोटिस थमाया गया है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat