बिलासपुर

बिलासपुर: सीएम ने शहर को दी सेंट्रल लाइब्रेरी और स्मार्ट सड़क की सौगात…लाइब्रेरी और इंक्यूबेशन सेंटर को देख सीएम नेे की तारीफ़…

पद्मश्री पं.श्यामलाल चतुर्वेदी प्रतिमा का अनावरण

बिलासपुर। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज शहरवासियों को 22 करोड़ 70 लाख रूपये की लागत के कई महत्वपूर्ण विकास कार्यों की सौगात दी। जिसमें सेंट्रल लाइब्रेरी भवन,शहर की पहली स्मार्ट सड़क, पद्मश्री पं.श्यामलाल चतुर्वेदी प्रतिमा,पौनी-पसारी योजना के तहत हाॅट बाज़ार प्रमुख है।

बिलासपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड और नगर निगम द्वारा करोड़ों रूपये की लागत से तैयार किए गए कई महत्वपूर्ण योजनाओं के विकास कार्य आज मुख्यमंत्री के हाथों शहरवासियों को समर्पित की गई। सर्वप्रथम मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा रिबन काटकर सेंट्रल लाइब्रेरी परिसर का लोकार्पण किया गया। सेंट्रल लाइब्रेरी भवन में प्रदेश के पहले डिज़िटल लाइब्रेरी और इंक्यूबेशन सेंटर का भी मुख्यमंत्री जी ने लोकार्पण किया। इस दौरान कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहें प्रदेश के नगरीय निकाय मंत्री डाॅ शिव डहरिया विशिष्ट अतिथि के रूप में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे उपस्थित रहें। इससे पूर्व नगर निगम और स्मार्ट सिटी द्वारा लाइब्रेरी भवन में विभिन्न योजनाओं के लगाएं गए प्रदर्शनी का मुख्यमंत्री ने अवलोकन किया।

आज के कार्यक्रम में प्रमुख रूप से संसदीय सचिव रश्मि सिंह, महापौर राम शरण यादव,विधायक शैलेश पाण्डेय,कलेक्टर डाॅ सारांश मित्तर,निगम कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय,जिला पंचायत अध्यक्ष अरूण सिंह चौहान,निगम सभापति शेख़ नजीरूद्दीन,एमआईसी सदस्य  राजेश शुक्ला, पार्षद श्रीमति नम्रता यादव, विजय यादव।

डिजिटल लाइब्रेरी और इंक्यूबेशन सेंटर की सीएम ने की तारीफ़

10 करोड़ 97 लाख रूपये की लागत से तैयार किए गए शहर की पहली सेंट्रल लाइब्रेरी के लोकार्पण के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल डिजिटल लाइब्रेरी और इंक्यूबेशन सेंटर को देखते ही खुश हो गए और उन्होंने निर्माण कार्य समेत पूरी योजना की तारीफ़ करते हुए बिलासपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अधिकारियों की पीठ थपथपाई।इससे पूर्व इंक्यूबेशन सेंटर में बैठकर मुख्यमंत्री बघेल ने पूरी योजना की जानकारी ली,इस दौरान प्रेजेन्टेशन हाॅल में मुख्यमंत्री जी को पूरी योजना की जानकारी प्रेजेन्टेशन के ज़रिए दी गई। ज्ञात है की 10 करोड़ 97 लाख रूपये के सेंट्रल लाइब्रेरी परिसर जिसमें 2 करोड़ 47 लाख की लागत से इंक्यूबेशन सेंटर स्थापित किया गया तथा 2 करोड़ 37 लाख रूपये में प्रदेश की पहली डिजिटल लाइब्रेरी.इंक्यूबेशन सेंटर में जहां युवाओं के नए इनोवेशन को प्लेटफार्म मिलेगा तो वहीं डिजिटल लाइब्रेरी से कैरियर को संवारने में मदद मिलेगी।

शहर की पहली स्मार्ट सड़क

7 करोड़ 90 लाख रूपये की लागत से बिलासपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा मिट्टी तेल गली को विकसित करके बनाएं गए स्मार्ट सड़क से शहर में यातायात का दबाव काफी हद तक कम होगा। पद्मश्री पं.श्यामलाल चतुर्वेदी जी के नाम पर स्थापित स्मार्ट सड़क में बहुत सारी विश्वस्तरीय सुविधाएं है, जिसमें अंडरग्राउण्ड केबलिंग,लाइट, पौधारोपण, अंडरग्राउण्ड ड्रेनेज सिस्टम,ई रिक्शा चार्जिंग प्वाइंट, फूटपाथ शामिल है।

पद्मश्री पं.श्यामलाल चतुर्वेदी प्रतिमा का अनावरण

नेहरू बाल उद्यान के समीप स्मार्ट सड़क के प्रारंभ में साहित्यकार रहें पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित स्व.श्यामलाल चतुर्वेदी जी की प्रतिमा का अनावरण आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया। इस अवसर पर स्व.चतुर्वेदी के परिजन उपस्थित रहें।

प्रदर्शनी का अवलोकन,हितग्राहियों को बांटे चेक

नगर निगम और स्मार्ट सिटी द्वारा लाइब्रेरी भवन में विभिन्न योजनाओं के लगाएं गए प्रदर्शनी का मान.मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अवलोकन किया,इस दौरान सर्वप्रथम मुख्यमंत्री ने गोधन न्याय योजना के स्टाॅल में पहुंचे.जहाँ उन्होंने शहर के गौठानों के संबंध में जानकारी लेते हुए गोबर से बनाएं गए उत्पादों का अवलोकन किया। इस दौरान गोबर से वर्मी कंपोस्ट बनाकर बेचने वाले गोवर्धन समिति की महिलाओं को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दस हज़ार रूपये का चैक सौंपा। इसी तरह राष्ट्रीय आजीविका मिशन के स्टाॅल निरीक्षण के दौरान दस अलग-अलग महिला स्व सहायता समूहों को एक लाख तीस हज़ार रूपये का आवर्ति अनुदान मुख्यमंत्री द्वारा दिया गया।

अवलोकन के दौरान सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को गोबर से बनें उत्पादों और एनयूएलएम के मशरूम को उपहार स्वरूप दिया गया। इसके अलावा पीएम आवास योजना के स्टाॅल में मोर जमीन मोर मकान के तहत 5 हितग्राहियों को मकान निर्माण के लिए राशि और मोर मकान मोर चिन्हारी के तहत 5 हितग्राहियों को मकान आबंटन पत्र मुख्यमंत्री के हाथों से सौंपा गया। इसके अलावा लाइब्रेरी भवन में बिलासपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड, मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना और कृषि विभाग की प्रदर्शनी लगाई गई थी।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat