Mon. Jan 27th, 2020

मुख्यमंत्री भुपेश बघेल ने कहा…छेरछेरा का त्यौहार हमारी दानशीलता की परम्परा का प्रतीक…प्रदेशवासियों को महापर्व की दी बधाई

रायपुर/ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को सोमवार को अन्नदान के महापर्व छेरछेरा त्यौहार की बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने अपने संदेश में कहा है कि छत्तीसगढ़ के ग्रामीण जन-जीवन से जुड़ा यह लोकपर्व हमारी दानशीलता की गौरवशाली परम्परा की याद दिलाता है।

कृषि प्रधान छत्तीसगढ़ में यह पर्व नई फसल के खलिहान से घर आने पर उत्साह और उमंग के साथ मनाया जाता है। गांवों और शहरों की गलियों में बच्चों की टोलियां द्वार-द्वार जाकर छेरछेरा, माई कोठी के धान ल हेरहेरा की पुकार लगाकर अन्नदान का आग्रह करते हैं। दानशीलता के इस महापर्व में बड़े-बुजुर्ग स्नेह के साथ बच्चों को धान, चांवल सहित नगद राशि देते हैं।

मेहनतकश किसानों के इस पर्व में किसानों की कर्ज माफी और ढाई हजार रूपए प्रति क्विंटल पर धान खरीदी के फैसले ने खुशियों के नए रंग भर दिए हैं। मुख्यमंत्री ने इस अवसर सभी लोगों के लिए मंगल कामनाएं की हैं।

You may have missed

error: Content is protected !!