कांग्रेसछत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कार्यक्रम में जुटे, टीएस सिंह देव फिर दिल्ली लौटे, कांग्रेसियों को राहुल का इंतजार…

छत्तीसगढ़ में ढाई साल के लिए सीएम फॉर्मूला पर हाई कमान के साथ मीटिंग से वापस लौटने के बाद जहां मुख्यमंत्री भूपेश बघेल फिर से अपने काम-काज में जुट गए हैं। वहीं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव एक दिन के लिए फिर से दिल्ली लौट गए। हालांकि उनके करीबियों ने इस यात्रा को राजनैतिक न बताकर निजी यात्रा करार दिया। इस बीच कांग्रेस विधायकों का कहना है कि अभी भी नेतृत्व परिवर्तन पर यहां अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है। वह इस मामले में कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से स्पष्ट निर्देश की उम्मीद कर रहे हैं।

सरकारी आयोजनों में जुटे सीएम

रविवार को बघेल ने मछुआ कल्याण बोर्ड के चेयरमैन एमआर निषाद और संसदीय सचिव कुंवर सिंह निषाद से मिले। यह दोनों ही मछुआरा समुदाय से ताल्लुक रखते हैं। इसके अलावा उन्होंने चंद्रनाहु कुर्मी समाज के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात की। उन्होंने महासमुंद जिले में 26 सितंबर को कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया। इसी दिन बघेल ने सूखे जैसे हालात का सामने करने वाले किसानों के लिए राहत उपायों की घोषणा की। इसके मुताबिक खरीफ के फसल में नुकसान उठाने वाले किसानों को सर्वे के हिसाब से 9000 रुपए प्रति एकड़ दिया जाएगा। यह मदद राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत दिया जाएगा।

बघेल ने दिखाए थे विजयी तेवर, टीएस सिंहदेव बोले थे फैसला सुरक्षित

इससे पूर्व तीन दिन पहले बघेल विजयी भाव के साथ रायपुर लौटे थे। इस दौरान हवाई अड्डे पर पहुंचे उनके समर्थकों ने जमकर नारेबाजी की थी। तब बघेल ने ऐसा जाहिर किया था कि टीएस सिंहदेव की चुनौती को उन्होंने खत्म कर दिया है। हालांकि उनके बाद लौटे स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बताया कि हाईकमान ने फैसला सुरक्षित रखा है। अब कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता राहुल गांधी की दो दिवसीय यात्रा पर नजर लगाए बैठे हैं। उन्हें उम्मीद है कि इस दौरान हाई कमान पॉवर शेयरिंग फॉर्मूला पर कुछ निर्णय करेंगे। शनिवार को बघेल ने मीडिया को यह जानकारी दी थी कि राहुल गांधी इस हफ्ते प्रदेश की दो दिवसीय यात्रा पर आएंगे।

कांग्रेसियों में कंफ़्यूजन

एक वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने बताया कि राहुल गांधी यहां आएंगे तो निश्चित तौर पर नेताओं, कार्यकर्ताओं और विधायकों से बातचीत करेंगे। इस दौरान वह सरकार, नीतियों और पॉवर शेयरिंग फॉर्मूला पर भी बात करेंगे। उन्होंने कहा कि मैं नहीं जानता कि क्या होगा, लेकिन राहुल गांधी की यह विजिट निश्चित तौर पर अहम भूमिका निभाएगी। हालांकि प्रदेश कांग्रेस कार्यकर्ताओं का दावा है कि राहुल गांधी की यात्रा का शिड्यूल अभी भी तय नहीं है। वहीं छत्तीसगढ़ कांग्रेस मीडिया सेल के चेयरमैन नितिन त्रिवेदी ने बताया कि सबसे पहले छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया यहां आएंगे। इसके बाद वह कांग्रेस की यात्रा के बारे में योजना बनाएंगे। इस बीच 3 सितंबर को कांग्रेस जनरल सेक्रेटी अजय माकन रायपुर पहुंचेंगे। नितिन के मुताबिक यहां वो नेशनल मोनेटाइजेशन पाइपलाइन पर प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करेंगे। वहीं भूपेश बघेल इसी मुद्दे पर लखनऊ में मीडिया से मुखातिब रहेंगे।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat