छत्तीसगढ़: गौठानों से आएगी गांवों में समृद्धि…राज्य सभा सांसद और मंत्रीगणों ने मॉडल गौठान का किया अवलोकन …चौपाल में बैठकर ग्रामीणों से की चर्चा…

रायपुर। गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की संकल्पना को साकार करेगी सुराजी गांव योजना। राज्य सरकार की इस महात्वाकांक्षी योजना से गांव में समृद्धि के नए द्वार खुलेंगे। योजना के पहले चरण में गांवों में मॉडल गौठानों का निर्माण किया जा रहा है। गौठानों से लगी खुली जगह में चारागाह का विकास भी किया जा रहा है। राज्यसभा सांसद पी.एल.पुनिया के साथ उद्योग मंत्री लखमा और नगरीय प्रशासन मंत्री डहरिया आज महासमुन्द जिले के कछारडीह और रायपुर जिले के नवागाँव में निर्माणाधीन मॉडल गौठान में भ्रमण किया। वहां पशुओं के लिए बनाए जा रहे गौठान और विकसित किए जा रहे सहित विभिन्न कार्यों की जानकारी ली।

राज्यसभा सांसद पी. एल. पुनिया ने गांव के चौपाल में बैठकर ग्रामीणों से इस योजना के क्रियान्वयन से जुड़े विभिन्न मुद्दो पर चर्चा की और उनसे इस योजना में सक्रिय भागरीदारी का आव्हान किया। उन्होंने कहा कि देश की 70 प्रतिशत आबादी गाँव में निवास करती है ग्रामीण अर्थव्यवस्था के विकास के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने अच्छा प्रयास किया है। वर्तमान में बडे शहरों में केमिकल मुक्त राशन, सब्जी की माँग है। राज्य सरकार की इस योजना से खेती-किसानी में जैविक खाद के उपयोग से जैविक फसलों का उत्पादन होगा वहीं रासायनिक खादों पर निर्भरता कम होगी। योजना की सफलता के लिए सरकार के साथ-साथ आम जनता को भी सहयोग आवश्यक है।

मंत्री शिव डहरिया ने कहा कि योजना छत्तीसगढ़ की संस्कृति एवं परंपरा को सहजने महत्वपूर्ण योजना है। इससे बनने वाली गौठानों से जहां एक ओर गांवों में समृद्धि आएगी, वहीं ग्रामीणों के आर्थिक सशक्तिकरण की दिशा में भी कारगार साबित होगी। मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि इस योजना की चर्चा देश-विदेश में हो रही है। खेती-किसानी को मजबूत बनाने और पशुधन संवर्धन के साथ-साथ स्थानीय ग्रामीणों को अतिरिक्त आमदनी का जरिया दिलाने में ये योजना कारगर होगी। विधायक धनेद्र साहू ने कहा कि सरकार की इस महत्वकांक्षी योजना से रासायनिक खादों और कीटनाशकों का उपयोग कम कर जैविक खाद की उपयोग को बढा़वा दिया जाएगा। इस अवसर पर विधायक मोहन मरकाम ने भी सम्बोधित किया। ग्रामीणों से चर्चा के दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष शारदा वर्मा, ग्राम कछारडीह और ग्राम नवागाँव के सरपंच सहित रायपुर कलेक्टर डॉ. एस भारतीदासन, जिला पंचायत सीईओ गौरव कुमार सिंह तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति और ग्रामीणजन उपस्थित थे।

You may have missed

error: Content is protected !!