कांग्रेसदेश

अनाज से सैनेटाइजर बनाने के फैसले पर राहुल का सरकार पर तंज, कहा- ‘आखिर हिंदुस्तान का ग़रीब कब जागेगा?

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना वायरस से लड़ने की दिशा में अनाज से सैनेटाइजर बनाने के सरकार के फैसले पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान गरीबों को भोजन उपलब्ध नहीं हो पा रहा और सरकार है कि अनाज का उपयोग सैनेटाइजर बनाने में करने की बात कह रही है। राहुल ने कहा कि आखिर देश का गरीब कब तक सोता रहेगा, उसे अपने अधिकारों के लिए आवाज उठानी पड़ेगी।

राहुल गांधी ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, ‘आखिर हिंदुस्तान का ग़रीब कब जागेगा? आप भूखे मर रहे हैं और वो (सरकार) आपके हिस्से के चावल से सैनेटाइजर बनाकर अमीरों के हाथ की सफ़ाई में लगे हैं।’ इस दौरान उन्होंने एक खबर का लिंक भी साझा किया जिसमें कहा गया है कि सरकार गोदामों में मौजूद अतिरिक्त चावल का उपयोग हैंड सैनेटाइजरों की आपूर्ति के लिए जरूरी इथेनॉल बनाने में करने का फैसला किया है। इसी खबर के आधार पर राहुल ने कहा कि अपने इस फैसले से सरकार ने जता दिया कि उनकी प्राथमिकता भूखों को भोजन उपलब्ध कराना नहीं, बल्कि अमीरों को हैंड सैनेटाइजर की सुविधा देना है।

उल्लेखनीय है कि देश में जारी कोरोना संकट के बीच सरकार की योजना गोदामों में मौजूद अतिरिक्त चावल से इथेनॉल का निर्माण कर सैनेटाइजर की आसान उपलब्धता सुनिश्चित करने की है। सरकार ने यह फैसला उस वक्त लिया है जब देशव्यापी लॉकडाउन के बीच लाखों की संख्या में प्रवासी मजदूर भुखमरी की कगार पर हैं, इसी कारण विवाद हो गया है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat