शादी के लिये भय्यू महाराज को ब्लैकमेल करने वाली युवती दो अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार…

हाईप्रोफाइल आध्यात्मिक गुरु भय्यू महाराज की मौत के सात माह पुराने मामले में शुक्रवार को अहम मोड़ आ गया। उन्हें खुदकुशी के लिए उकसाने के आरोप में पुलिस ने 25 वर्षीय युवती और भय्यू महाराज के दो सहयोगियों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) हरिनारायणाचारी मिश्रा ने बताया कि मामले में पलक, विनायक दुधाड़े और शरद देशमुख को गिरफ्तार किया गया है। उन पर आत्महत्या के लिए उकसाने और अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि पलक पर आरोप है कि वह कुछ निजी वस्तुओं के आधार पर भय्यू महाराज को ब्लैकमेल कर उन पर शादी के लिए दबाव बना रही थी, जबकि आध्यात्मिक गुरु के दो सहयोगी दुधाड़े और देशमुख इस काम में युवती की कथित तौर पर मदद कर रहे थे।

डीआईजी के मुताबिक, भय्यू महाराज की पत्नी आयुषी और उनके अन्य नजदीकी संबंधियों ने तीनों आरोपियों के खिलाफ पुलिस को हाल ही में बयान दर्ज कराए हैं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक भय्यू महाराज के पूर्व ड्राइवर कैलाश पाटिल ने भी पुलिस को कुछ दिन पहले दिए बयान में कहा था कि पलक यह कहकर आध्यात्मिक गुरु को ब्लैकमेल कर रही थी कि उसके पास उनसे जुड़ी कुछ निजी वस्तुएं हैं। भय्यू महाराज का सबसे खास सेवादार दुधाड़े उनकी आत्महत्या के तुरंत बाद चर्चा में आया था।

You may have missed

Translate »
error: Content is protected !!