मनोरंजन

हॉस्पिटल में भर्ती अमिताभ बच्चन ने शेयर की इंस्टाग्राम पर पोस्ट, बताया किन 6 तरह के लोगों से बनाएं दूरी…

बॉलीवुड एक्टर अमिताभ बच्चन कुछ दिनों पहले कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसके बाद से ही वह नानावटी हॉस्पिटल में भर्ती हैं। फैन्स को इंस्टाग्राम पोस्ट पर अपनी हेल्थ अपडेट दे रहे हैं। हाल ही में अमिताभ ने एक अपनी एक फोटो शेयर करते हुए 6 तरह के लोगों से दूरी बनाने के लिए कहा। अमिताभ बच्चन लिखते हैं कि सभी से ईर्ष्या करने वाले, घृणा करने वाले, असंतोषी, क्रोधी, सदा संदेह करने वाले और पराए आसरे जीने वाले ये छः प्रकार के मनुष्य हमेशा दुखी रहते हैं। अतः यथा संभव इन प्रवृत्तियों से बचना चाहिए।

View this post on Instagram

*ईर्ष्यी घृणी त्वसंतुष्ट: क्रोधनो नित्यशड्कितः।* *परभाग्योपजीवी च षडेते दुखभागिनः।।* *अर्थात-* सभी से ईर्ष्या करने वाले, घृणा करने वाले, असंतोषी, क्रोधी, सदा संदेह करने वाले और पराये आसरे जीने वाले ये छः प्रकार के मनुष्य हमेशा दुखी रहते हैं। अतः यथा संभव इन प्रवृत्तियों से बचना चाहिए। They that express jealousy always towards others, they who ever dislike all others, they that remain dissatisfied, angered , they that are always and ever doubting .. and those who live off others .. these 6 kinds of individuals shall remain ever filled with sadness .. whenever possible we need to save ourselves from such trend setters ..

A post shared by Amitabh Bachchan (@amitabhbachchan) on

इससे पहले एक पोस्ट शेयर कर उन्होंने फैन्स का शुक्रिया अदा किया था। फैन्स लगातार अमिताभ के बेहतर स्वास्थ्य के लिए पूजा-पाठ कर रहे हैं। एक्टर के चारों बंगले- जलसा, जनक, वत्सा और प्रतीक्षा, सभी को बीएमसी ने सील कर दिया है। बाहर कंटेनमेंट जोन का बोर्ड लगा दिया है। एक न्यूज पोर्टल के मुताबिक अमिताभ बच्चन के 26 स्टाफ मेंबर्स का स्वैब टेस्ट हुआ। बताया जा रहा है कि सभी की रिपोर्ट्स नेगेटिव आई हैं।

नानावटी सुपर स्पेशिएलिटी हॉस्पिटल के पीआरओ के मुताबिक अमिताभ बच्चन की हालत अब पहले से बेहतर है। अमिताभ बच्चन के फैन्स उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए कामना कर रहे हैं। कोई हवन तो कोई पूजा-पाठ कर रहा है। जबसे अमिताभ बच्चन की यह खबर सामने आई है, हॉस्पिटल के बाहर लोगों की भीड़ जमा हो रही है। इसे देखते हुए मुंबई पुलिस ने भी अपनी सिक्यूरिटी बढ़ा दी है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close