स्वास्थ्य

अडानी विल्मर ने फॉर्च्यून राइस ब्रान कुकिंग ऑयल के विज्ञापन में सौरव गांगुली करते हैं हार्ट को हेल्दी रखने का दावा…जानेें पूरा मामला…

सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद अडानी विल्मर ने फॉर्च्यून राइस ब्रान कुकिंग ऑयल के विज्ञापन को फिलहाल रोक दिया है लेकिन कंपनी ने कहा है कि वे सौरव गांगुली के साथ काम करना जारी रखेंगे। दरअसल, गांगुली को हार्ट अटैक आने के बाद से ही कंपनी के उत्पाद फॉर्च्यून राइस ब्रान कुकिंग तेल को लेकर सोशल मीडिया पर सवाल उठ रहे हैं। फॉर्च्यून कुकिंग तेल अडानी ग्रुप की कंपनी अडानी विल्मर का प्रोडक्ट है और इसका विज्ञापन सौरभ गांगुली करते हैं।

अडानी विल के उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी अंगशु मल्लिक ने कहा, “हम अपने प्रिय दादा, सौरव गांगुली के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं और वह हमारे ब्रांड एंबेसडर बने रहेंगे। यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण घटना है और किसी के साथ भी हो सकती है। हमने अपने टीवी विज्ञापन से तब तक एक अस्थायी ब्रेक लिया है, जब तक हम फिर से उनके साथ बैठ कर चीजों को आगे नहीं ले जाते हैं। “

विज्ञापन में गांगुली करते हैं हार्ट को हेल्दी रखने का दावा

फॉर्च्यून कुकिंग तेल के विज्ञापन में हार्ट को हेल्दी रखने का दावा किया जाता है। यह विज्ञापन ‘दादा बोले, वेलकम टू 40s’टैगलाइन से प्रसारित किया जाता है लेकिन भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई के मौजूद अध्यक्ष सौरव गांगुली को हार्टअटैक आने के बाद से ही सोशल मीडिया यूजर्स इस विज्ञापन की आलोचना कर रहे हैं। साथ ही यूजर्स ने विज्ञापन को जमकर ट्रोल भी किया है।

पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद ने सौरभ गांगुली को टैग करते हुए ट्टवीट लिखा है,”Dada @SGanguly99 गेट वेल सून। हमेशा उत्पाद को टेस्ट और ट्राई करने के बाद ही प्रमोट करो। खुद जागरूक और सावधान रहिए। भगवान आपको सुरक्षित रखे।” @vlp1994I नाम के एक अन्य यूजर ने लिखा है,”मुझे याद है दादा फॉर्च्यून ऑयल का एक कमर्शियल विज्ञापन करते थे और हार्ट के हेल्थ के बारे में बोलते थे और आपको कैसे कॉलेस्ट्रॉल से सावधान रहने की आवश्यकता थी। गेट वेल सून @SGanguly99″।

कंपनी ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) और अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन (एएचए) के अनुसार, राइस ब्रान तेल में अन्य वनस्पति तेलों की तुलना में मोनोअनसैचुरेटेड, पॉलीअनसेचुरेटेड और सैचूरेटेड फैट्स की सबसे अच्छी संभव संरचना होती है। यहां तक कि भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने भी पाया है कि राइस ब्रान तेल में एमयूएफए, ओमेगा -6 पीयूएफए, और प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट जैसे ओरिजनोल, टोकोफेरोल्स और टोकोट्रिऑनोल शामिल हैं, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करते हैं।

कोलकाता के अस्पताल में चल रहा है सौरव गांगुली का इलाज

सीने में दर्द की शिकायत के बाद सौरव गांगुली का कोलकाता के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है, जहां शनिवार को उनकी एंजियोप्लास्टी की गई थी। अब उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। अस्पताल के सूत्रों के मुताबिक गांगुली को जल्द ही डिस्चार्ज भी किया जा सकता है। रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि गांगुली वाले विज्ञापन को सभी प्लेटफॉर्म्स से हटा दिया गया है। साथ ही इस ब्रांड को प्रमोट करने वाली एजेंसी इस मामले पर गंभीरता से नजर रख रही है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat