स्वास्थ्य

आखिर अब और कितनी जानें लेगा कोरोना? फिर टूटे सारे रिकॉर्ड, एक दिन में 2 लाख 16 हजार केस, मौत के आंकड़ों से बढ़ी चिंता…

कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने पूरे भारत में तांडव मचा रखा है। हर दिन कोरोना वायरस नया और खौफनाक रिकॉर्ड बना रहा है, जिससे देश में दहशत का माहौल बन गया है। कोविड के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और बीते 24 घंटे में पॉजिटिव केसों की संख्या 2 लाख 16 हजार से अधिक पाई गई है। भारत में कोविड-19 के एक दिन में रिकॉर्ड दो लाख से अधिक मामले सामने आने के बाद इस बीमारी का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 15 लाख के पार चली गई है। महामारी की शुरुआत के बाद से अब तक का यह सर्वाधिक आंकड़ा है, जब एक दिन में 2 लाख 26 हजार से अधिक केस मिले। एक दिन में एक लाख से दो लाख कोरोना केस आने का यह सफर महज दस दिनों में पूरा हुआ जो यह बताने के लिए काफी है कि कोरोना की दूसरी लहर कितनी खतरनाक है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में गुरुवार रात तक कोरोना वायरस के एक दिन में 216,850 नए केस सामने आए और इसी दौरान 1183 लोगों की मौत हो गई। यह महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक एक दिन में मिलने वाले नए कोरोना संक्रमितों का सर्वाधिक आंकड़ा है। कोरोना की दूसरी लहर अब पहली लहर को काफी पीछे छोड़ चुकी है। अब तक के कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 14287740 हो गई है। कोरोना से पीड़ित लोगों के ठीक होने की दर और गिरकर 89.51 प्रतिशत रह गई है।

कोरोना से होने वाली मौतों के आंकड़ों में भी लागतार उछाल देखने को मिल रहा है। महामारी से मरने वालों की कुल संख्या 174335 हो गई है। उपचाराधीन लोगों की संख्या भी बढ़कर 1563588 हो गई है। अब तक 12543978 कोरोना मरीज ठीक हो चुके हैं। बता दें कि लगातार 36वें दिन कोरोना के मामलों में देश में बढ़ोतरी देखी जा रही है। इस बीच सरकारें भी कोरोना पर काबू पाने के लिए कई तरह की पाबंदियां लगा रही हैं, मगर जिस रफ्तार से कोरोना बढ़ रहा है, ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि क्या अब लॉकडाउन ही आखिरी विकल्प बचा है?

सबसे कम 1,35,926 उपचाराधीन मरीज 12 फरवरी को थे और सबसे अधिक 10,17,754 उपचाराधीन मरीज 18 सितंबर 2020 को थे। इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,24,29,564 हो गई है जबकि मृत्यु दर 1.23 प्रतिशत है।

भारत में कोविड-19 के मामले सात अगस्त को 20 लाख का आंकड़ा पार कर गए थे। इसके बाद संक्रमण के मामले 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के पार चले गए थे। वैश्विक महामारी के मामले 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार कर गए थे।

दिल्ली में कोरोना का कहर

दिल्ली में कल की अपेक्षा गुरुवार को कोरोना वायरस के मामलों में मामूली कमी देखने को मिली, लेकिन आज मौत का आंकड़ा थोड़ा बढ़ गया। दिल्ली में गुरुवार को कोरोना के 16000 से अधिक नए पॉजिटिव केस आने आने के साथ ही संक्रमित मरीजों का कुल आंकड़ा बढ़कर 7.84 लाख के पार पहुंच गया है। इसके साथ ही अब पॉजिटिविटी रेट भी 20.22 फीसदी पर आ गया है। कोरोना संक्रमण से आज 112 मरीजों की मौत भी हो गई, लेकिन 13 हजार से अधिक लोग ठीक भी हुए हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से गुरुवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, बीते 24 घंटे में जहां कोरोना के 16,699 नए मरीज मिले हैं, वहीं 112 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों का कुल आंकड़ा बढ़कर 11,652 पर पहुंच गया है। बुधवार को 17,282 मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई थी।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat