स्वास्थ्य

बड़ी ख़बर: इस साल दुनियाभर पर मंडरा रहा ‘दोहरी माहमारी’ का ख़तरा…रीसर्च में हुए हैरतअंगेज़ खुलासा

कोरोना माहमारी के संकट काल में फ्लू बीमारी धीमी पड़ गई थी. लेकिन अब वैज्ञानिकों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि इस साल सर्दियों में फ्लू बहुत भारी पड़ सकता है. अब दो नई ऐसे अध्ययन हुए हैं, जिसमें यह दावा किया जा रहा है कि इस साल सर्दियों और पतझड़ के सीजन में फ्लू तेजी से फैल सकता है. एक अध्ययन में दावा किया गया है कि वर्ष 2021-22 के फ्लू सीजन में पूरे विश्व में 1 से 4 लाख लोग फ्लू के कारण अस्पतालों में भर्ती हो सकते हैं.

इस अध्ययन के परिणाम प्री-प्रिंट डेटाबेस medrXiv पर छापे गए हैं. हालांकि इस स्टडी का अभी तक पीयर रिव्यू नहीं हुआ है. मगर स्टडी इस बात पर जोर डालती है कि इस साल फ्लू की वैक्सीन की आवश्यकता अधिक पड़ सकती है. दोनों ही अध्ययन में यह बात स्पष्ट तौर पर सामने आई है कि फ्लू के मामले कम किए जा सकते हैं, यदि 20 से 40 फीसदी फ्लू वैक्सीन का प्रबंध किया जाए. यूनिवर्सिटी ऑफ पिट्सबर्ग ग्रैजुएट स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में स्थित पब्लिक हेल्थ डायनेमिक्स लेबोरेटरी के डायरेक्टर और इन दोनों अध्ययन के प्रमुख लेखक डॉ. मार्क रॉबर्ट्स का कहना है कि अधिक से अधिक लोगों को फ्लू की वैक्सीन देकर एक बड़ी मुसीबत को रोका जा सकता है. क्योंकि यदि किसी को फ्लू होता है, तो उसे कोरोना की चपेट में आने में अधिक वक़्त नहीं लगेगा. यह बेहद जानलेवा साबित हो सकता है.

डॉ. मार्क ने कहा कि गत वर्ष पूरी दुनिया में फ्लू के मामले काफी कम आए थे, क्योंकि लोग कोरोना से ग्रसित थे. इसकी वजह सोशल डिस्टेंसिंग, स्कूलों का बंद होना, मास्क पहनना और ट्रेवल में कमी थी. वर्ष 2020-21 के फ्लू सीजन में अमेरिका में फ्लू के कारण 1 लाख में 4 लोग अस्पताल में एडमिट हुए थे. जबकि सामान्य दिनों में यह दर 1 लाख में 70 का होता है. इसके साथ ही फ्लू के कारण होने वाली मौतों में 95 फीसदी की कमी आई थी.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat