Fri. Jan 24th, 2020

जानें गलत बैंक खाते में चले जाएं पैसे तो क्या करें? क्या है नियम? किन बातों का रखें ध्यान…और जानें कानूनी प्रक्रिया बारे में…

किसी को पैसे भेजते समय कई बार बैंक खाता संबंधी गलत जानकारी की वजह से पैसा दूसरे खाते में चला जाता है। ऐसी स्थिति में खुद को ठगा महसूस करने और नुकसान की चिंता करने के बजाए आपको धैर्य और समझदारी से काम लेना चाहिए। अक्सर लोग अपनी गलती को ही आखिरी मानकर या सही जानकारी न होने के अभाव में पैसे वापस पाने की कोशिश ही नहीं करते हैं। तो, अगर आपके साथ कभी ऐसी घटना पेश आती है तो हमारे बताए हुए सुझावों पर अमल कर अपनी गाढ़ी कमाई का पैसा वापस ला सकते हैं।

तुरंत अपने बैंक को सूचित करें

गलत खाते में पैसे ट्रांसफर होने के बाद सबसे पहले अपने बैंक को सूचित करें। यह सूचना आप फोन या ई-मेल के जरिये दे सकते हैं। इसके अलावा आप सीधे अपने शाखा प्रबंधक से भी संपर्क कर सकते हैं। यह समझना जरूरी है कि जिस बैंक के खाते में आपने पैसे ट्रांसफर किए हैं, सिर्फ वही बैंक इस मामले को सुलझा सकता है। अपनी शिकायत में ट्रांजेक्शन की तारीख और समय, अपना अकाउंट नंबर और जिस अकाउंट नंबर में भूल से पैसे गए हैं, उसकी पूरी जानकारी शामिल करें। सबूत के लिए ट्रांजेक्शन का स्क्रीन शॉट भी भेज सकते हैं।

संबंधित बैंक में शिकायत करें

जिस भी खाते में पैसे गलती से ट्रांसफर हुए हैं, उस बैंक में जाकर आप ट्रांजेक्शन की शिकायत करें। बिना अपने ग्राहक के अनुमति के बैंक पैसा ट्रांसफर नहीं करता है। इसके अलावा बैंक अपने ग्राहक की जानकारी भी किसी के साथ साझा नहीं करता। लिहाजा शिकायत दर्ज कराते वक्त आपको बैंक से आग्रह करना होगा कि जो पैसे गलती से किसी अन्य खाते में ट्रांसफर हुए हैं, उन्हें वापस कर दिया जाए। इस पर बैंक अपने ग्राहक से आपके पैसे वापस करने की अनुमति मांगेगा।

कानूनी प्रक्रिया आखिरी रास्ता

जिस व्यक्ति के खाते में पैसा गया है अगर वह आपके पैसे वापस करने से इनकार करता है तो आपके पास कानूनी प्रक्रिया अपनाना ही आखिरी रास्ता बचेगा। आपकी अपील पर बैंक संबंधित खाताधारक के खिलाफ कानूनी कदम उठाने के लिए मामला दर्ज कराएगा।

रिजर्व बैंक स्पष्ट दिशा-निर्देश है कि अगर किसी खाताधारक का पैसा गलती से उसी बैंक के किसी दूसरे के खाते में या किसी अन्य बैंक के खाते में जमा हो जाते हैं तो आपके बैंक को जल्द से जल्द कदम उठाना होगा। यह बैंक की जिम्मेदारी होगी कि वह गलत खाते से पैसे को सही खाते में लौटाने की व्यवस्था करे।

You may have missed

error: Content is protected !!