दुनियादेशस्वास्थ्य

24 घंटे में कोरोना से भारत में 56 लोगों की मौत, 1490 नए मामले; अब तक कुल 24942 मरीज, 779 मौतें

महाराष्ट्र में कोविड-19 से सबसे ज्यादा मौत

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार (25 अप्रैल) जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक कोरोना वायरस का प्रकोप देश के 33 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में फैल चुका है। कोविड-19 से सबसे गंभीर रूप से प्रभावित महाराष्ट्र में अब तक 301 मौतें हुई हैं, जबकि मध्यप्रदेश में 92 लोगों को इस वायरस ने लील लिया है। वहीं, गुजरात में संक्रमण के चलते 127 और उत्तर प्रदेश व दिल्ली में क्रमशः 25 और 53 लोगों की जान गई है।” कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे अधिक मामले 6817 महाराष्ट्र से ही आए हैं। इसके बाद 2815 मामलों के साथ गुजरात दूसरे, जबकि 2514 मामलों के साथ दिल्ली तीसरे स्थान पर है।

कोविड-19: देश में मार्च के बाद सबसे कम वृद्धि दर
वहीं, सरकार ने शनिवार (25 अप्रैल) को कहा कि देश में कोविड-19 मामलों के दोगुना होने की औसत दर फिलहाल 9.1 दिन है। वहीं शुक्रवार सुबह आठ बजे से शनिवार सुबह आठ बजे तक, देश में नए मामलों की वृद्धि दर छह प्रतिशत दर्ज की गई है, जो देश के 100 मामलों का आंकड़ा पार करने के बाद से प्रतिदिन के आधार पर सबसे कम वृद्धि दर है। कोविड-19 पर उच्चाधिकार प्राप्त मंत्रिसमूह (जीओएम) की 13 वीं बैठक केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की अध्यक्षता में शनिवार (25 अप्रैल) को हुई।

देश के 15 राज्यों में कोरोना वायरस से संबंधित कुल आंकड़ा (स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार)
राज्य/केंद्रशासित प्रदेश  कोविड-19 के पुष्ट मामले कितने मरीज अब तक ठीक कोविड-19 से मौत
महाराष्ट्र 6817 957 301
गुजरात 2815 265 127
दिल्ली 2514 857 53
राजस्थान 2034 230 27
मध्यप्रदेश 1952 210 92
तमिलनाडु 1755 866 22
उत्तर प्रदेश 1778 248 26
तेलंगाना 984 253 26
आंध्रप्रदेश 1061 171 31
पश्चिम बंगाल 571 103 18
कर्नाटक 489 153 18
जम्मू-कश्मीर 454 109 5
केरल 451 331 4
पंजाब 298 67 17
हरियाणा 272 156 3

इसके साथ ही, मंत्रालय ने कहा कि जीओएम को इस बात से अवगत कराया गया कि अभी (कोरोना वायरस संक्रमण से) मृत्यु दर 3.1 प्रतिशत है जबकि (संक्रमित) मरीज के संक्रमण मुक्त होने की दर 20 प्रतिशत से अधिक है, जो कि ज्यादातर देशों की तुलना में बेहतर है और इसे देश में लॉकडाउन और निषिद्ध क्षेत्र घोषित करने की रणनीति के सकारात्मक प्रभाव के तौर पर देखा जा सकता है। मंत्रालय ने कहा, ”देश में (संक्रमण के)मामलों के दोगुना होने की औसत दर अभी 9.1 दिन है।”

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat