देश

जन्मदिन: 88 साल के हुए पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, जानिए उनके बारे में अनसुनी बातें

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह का आज 88 वां जन्मदिन है। वह 2004-2014 के बीच भारत के प्रधानमंत्री रहे। प्रधानमंत्री बनने से पहले उन्हें 1991 में नरसिम्हा राव सरकार में आर्थिक सुधारों के लिए काफी जाना जाता था। वह पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव के वित्त मंत्री थे। 


पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 1991 में नरसिम्हा राव सरकार के दौरान बजट में एक के बाद एक आधुनिक भारत और देश में आर्थिक सुधारों को आगे बढ़ाने के रोडमैप की नींव रखी गई थी। हालांकि इसके लिए मनमोहन सिंह ने नरसिम्हा राव को इसका क्रेडिट लेने से कभी नहीं रोका।

आइए जानते हैं कांग्रेस के दिग्गज नेता मनमोहन सिंह के बारे में

भारत के चौदहवें प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह विचारक और विद्वान के रूप में प्रसिद्ध है। वह अपनी नम्रता, कर्मठता और कार्य के प्रति प्रतिबद्धता के लिए जाने जाते हैं।

-पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का जन्म 26 सितम्बर 1932 को अविभाजित भारत के पंजाब प्रान्त के एक गाँव में हुआ था।

-उन्होंने अपनी पढ़ाई अमृतसर के हिंदू कॉलेज से की व पंजाब विश्वविद्यालय से स्नातक और एमए की पढ़ाई करने के बाद उच्च शिक्षा के लिए कैंब्रिज विश्वविद्यालय, लंदन का रूख किया।

-उन्होंने पंजाब विश्वविद्यालय, कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में अध्ययन के साथ ही ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त ली थी।  मनमोहन सिंह ने पंजाब विश्वविद्यालय के साथ-साथ दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स और दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ाया है।

– डॉ मनमोहन सिंह ने एक बार संयुक्त राष्ट्र के साथ भी काम किया है। वह 1966 – 1969 के दौरान संयुक्त राष्ट्र के साथ जुड़े थे। वह व्यापार और विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (UNCTAD) के लिए आर्थिक मामलों के अधिकारी के रूप में चुने गए थे।

-1987 से 1990 तक संयुक्त राष्ट्र में उनका दूसरा कार्यकाल दक्षिण आयोग के महासचिव के रूप में था, जो विकासशील अर्थव्यवस्थाओं का एक इंटर-गवर्नमेंटल ऑर्गनाइजेशन है।

-कांग्रेस नेता मनमोहन सिंह 1985 से 1987 तक योजना आयोग के प्रमुख रह चुके हैं. इसके साथ ही वह इससे पहले 1972 और 1976 के बीच उन्होंने मुख्य आर्थिक सलाहकार सहित कई प्रमुख पदों पर कार्य किया है।

-भारतीय अर्थशास्त्री के तौर पर मनमोहन सिंह ने 1982 से 1985 तक भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर के रूप में भी कार्य किया।

-मनमोहन सिंह ने 1998 से 2004 तक राज्यसभा में विपक्ष के नेता के रूप में कार्य किया. इसके बाद मनमोहन सिंह ने यूपीए के नेतृत्व में अटल बिहारी वाजपेयी की एनडीए सरकार को हराने के बाद 2004 से 2014 के बीच भारत के 13 वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लीं.

– पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह वर्तमान में राजस्थान से राज्यसभा सदस्य हैं।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat