देशस्वास्थ्य

अपने आप को बदलता कोरोना: नए रिसर्च 15 लक्षण, आंसुओं से भी फ़ैल सकता है कोरोना! आँख लाल होना भी है संक्रमण का एक लक्षण…

अपने आप को बदलता कोरोना: नए रिसर्च 15 लक्षण, आंसुओं से भी फ़ैल सकता है कोरोना! आँख लाल होना भी है संक्रमण का एक लक्षण...

कोरोना वायरस का कहर दुनियाभर के 200 से ज्यादा देशों पर है। ऐसे में इसे लेकर तमाम प्रकार की रिसर्च भी की जा रही है। अब हाल ही में कोरोना वायरस के नए लक्षण भी सामने आ रहे हैं। कोरोना वायरस का इलाज कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि आंखों का लाल (red eyes) होना और आंसू गिरना भी इस वायरस के संक्रमण का एक लक्षण हो सकता है।

अमेरिकन एकेडमी ऑफ ऑप्थलमोलॉजी ने एक अलर्ट जारी करते हुए कहा था कि वायरस के संक्रमण की वजह से कंजेक्टिवाइटिस हो सकता है। इसमें आंखों में जलन के साथ आंखें लाल हो जाती हैं। वॉशिंगटन के किर्कलैंड में कोरोना का इलाज कर रही चेल्सी अर्नेस्ट नर्स का कहना है कि कोरोना से संक्रमित लगभग व्यक्तियों की आंखें के लाल होने का लक्षण देखा गया है।

हालांकि सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने आंखों का लाल होना, कोरोना वायरस से संक्रमित होने का लक्षण नहीं बताया है। लिस्ट में ऐसे किसी लक्षण की बात नहीं की गई है। गाइडलाइन में कहा गया है कि बुखार, कफ और सांस लेने में तकलीफ कोरोना वायरस के संक्रमण का लक्षण हो सकता है। छाती में दर्द और होठों का नीला पड़ना भी संक्रमण का लक्षण हो सकता है।

अमेरिकी विशेषज्ञों के अनुसार पिछले दिनों चीनी शोधकर्ताओं द्वारा हुए शोध में भी यह माना गया कि कोरोना आंखों के आंसूओं से भी फ़ैल रहा है। यह शोध बाकायदा कोरोना वायरस के 38 रोगियों पर किया गया है और इसमें पाया गया है कि लगभग एक दर्जन संक्रमित व्यक्तियों की आंखें लाल रंग की हो गई हैं।

इसके अलावा इटली और स्पेन के विशेषज्ञों ने दावा किया है कि पैरों में घाव भी कोरोना का लक्षण हो सकता है। दरअसल, इन देशों में कोरोना संक्रमित लोगों में ये लक्षण पाए गए हैं। कोरोना को लेकर हाल ही में हुईं रिचर्सों से पता चला है कि पिछले चार महीने में कोरोना के नए 15 लक्षण सामने आए हैं।

रिसर्च के मुताबिक, दुनियाभर में ऐसे मामले बढ़े हैं, जहां कोरोना के मरीजों में बुखार, सांस में तकलीफ जैसे लक्षण नहीं दिख रहे हैं। इसके चलते लोगों को संक्रमण का पता नहीं चल पाता है। इसके अलावा अब मरीजों में संक्रमण की शुरुआत में सिर दर्द, पेट में दर्द, दिमाग में खून के थक्के जमना, पैरों में घाव, गंध महसूस ना कर पाने जैसे लक्षण दिख रहे हैं। ऐसे में ज्यादातर मरीज संक्रमण को नहीं पहचान पाते।

Related Articles

Back to top button
Close
Close