देश

रिलायंस के सभी प्रॉडक्‍ट्स का बायकॉट करेंगे किसान, जियो के सिम पोर्ट कराने के लिए चलाएंगे अभियान…

नए कृषि कानूनों के खिलाफ 14 दिन से जारी किसान आंदोलन जोर पकड़ता नजर आ रहा है। सरकार की तरफ से दिए गए संशोधन के प्रस्ताव को किसान संगठनों ने नामंजूर कर दिया है। इसके बाद हुई किसान नेताओं की बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए हैं।

सूत्रों के मुताबिक, इस बार किसान दिल्ली-उत्तर प्रदेश हाइवे और राजस्थान के हाइवे को ठप करने की तैयारी कर रहे हैं। इसके अलावा दिल्ली में नाकेबंदी किये जाने की खबरें हैं। सरकार ने किसानों के सामने 9 सूत्रीय प्रस्ताव रखा था। यह ड्राफ्ट 13 संगठन नेताओं को भेजा गया था।

किसान नेताओं ने बताया कि 14 दिसंबर को पूरे देश में धरना-प्रदर्शन की तैयारी है। दिल्‍ली और आसपास के राज्‍यों से ‘दिल्‍ली चलो’ की हुंकार भरी जाएगी। बाकी राज्‍यों में अनिश्चितकाल तक के लिए धरने जारी रखे जाएंगे। 12 दिसंबर तक जयपुर-दिल्‍ली और दिल्‍ली-आगरा हाइवे को जाम कर दिया जाएगा।

वही किसान नेता ‘रिलायंस जियो’ से खासा नाराज नजर आए। उन्‍होंने कहा कि जियो के सिम पोर्ट कराने के लिए अभियान चलेगा। आंदोलन से जुड़े सभी किसान रिलायंस और अडाणी के सभी उत्‍पादों का बहिष्‍कार करेंगे, इसका ऐलान भी प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में हुआ।

हालांकि, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का कहना है कि किसानों के मुद्दों पर सरकार संवेदनशील है। जब एक अंतिम दौर की बातचीत हो रही है, तो इसे वर्क इन प्रोग्रेस माना जाता है। उन्होंने कहा कि इसकी रनिंग कमेंट्री नहीं हो सकती।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat