हमारी धरती से लाखों मील दूर चांद को कितना जानते हैं आप, यहां हैं उससे जुड़ी 11 बड़ी बातें…

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने अपने दूसरे मून मिशन ‘चंद्रयान-2’ का सफल प्रक्षेपण किया। 22 जुलाई की दोपहर 2.43 बजे श्री हरिकोटा स्थित लॉन्च पैड से रॉकेट ‘बाहुबली’ ने चंद्रयान-2 को लेकर उड़ान भरी। अब से 48 दिन बाद चंद्रयान चांद की सतह पर उतरेगा और वहां के रहस्यों का पता लगाएगा। चांद को करीब से देखने और उसके रहस्यों को जानने का मिशन आज से करीब 50 साल पहले 1959 में शुरू हुआ था, जब नील आर्मस्ट्रॉन्ग चांद पर जाने वाले पहले व्यक्ति बने थे। तब से दुनियाभर के वैज्ञानिकों अब तक चांद के बारे में कई बातें पता की हैं। क्या आप जानते हैं कि चांद का तापमान क्या है? क्या आपको पता है कि चांद पर पर्वत है या नहीं? क्या आपको पता है कि पृथ्वी पर भूकंप आने का चांद पर कोई असर होता है या नहीं? ऐसे ही कई रोचक सवालों के जवाब हम आपको आगे बता रहे हैं।

1. चांद और पृथ्वी के बीच कितनी दूरी है?

पृथ्वी से चांद की दूरी करीब 3,84,409 किलोमीटर है।

2. आकार और घनत्व के अनुसार चांद सौर उपग्रहों में किस स्थान पर आता है?

अगर आकार के अनुसार देखा जाए, तो पूरे सौर परिवार में चांद पांचवां सबसे बड़ा प्राकृतिक उपग्रह है। यह धरती का एकमात्र स्थायी प्राकृतिक उपग्रह है। वहीं, घनत्व के अनुसार चांद दूसरे स्थान पर आता है। सबसे ज्यादा घनत्व बृहस्पति के उपग्रह आयो का है। इसके बाद चंद्रमा का स्थान है।

3. चांद कितने दिनों में पृथ्वी का एक चक्कर पूरा करता है?

अपने अक्ष पर घूमते हुए चांद 27.3 दिनों में पृथ्वी का एक चक्कर पूरा करता है।

4. क्या चांद पर पहाड़ हैं?

हां, चांद पर भी पर्वत हैं। चांद के सबसे ऊंचे पर्वत का नाम हाइजन है। यह करीब 4700 मीटर ऊंचा है।

5. चांद पर रात और दिन का तापमान क्या होता है?

पृथ्वी की तरह ही चांद की सतह पर भी अलग-अलग जगहों का तापमान दिन और रात में अलग-अलग होता है। लेकिन धरती से अलग चांद के दिन और रात के तापमान में काफी ज्यादा अंतर होता है। चांद के इक्वेटर के करीब रात में तापमान माइनस 173 डिग्री तक चला जाता है। जबकि दिन के समय यह तापमान 127 डिग्री तक बढ़ जाता है। कुछ गहरे क्रेटर्स में तो तापमान हमेशा माइनस 240 तक कम रहता है।

6. क्या पृथ्वी पर भूकंप का असर चांद पर भी होता है?

अगर पृथ्वी पर भूकंप आता है, तो कंपन चांद की सतह पर भई होता है। इस कंपन का कारण है गुरुत्वाकर्षण बल।

7. चांद पर वजन कम होता है ज्यादा?

चांद पर आपको वजन कम महसूस होगा। क्योंकि वहां गुरुत्वाकर्षण पृथ्वी की तुलना में पांच गुना कम है।

8. चांद का नक्शा पहली बार किसने बनाया?

दूरबीन से देखने पर चांद जैसा नजर आता है, उसका नक्शा सबसे पहले ब्रिटिश खगोल वैज्ञानिक थॉमस हैरियट ने बनाया था।

9. चांद पर अब तक कितने लोग गए हैं?

1959 से लेकर अब तक चांद पर दुनियाभर से कुल 12 लोग जा चुके हैं।

10. क्या चांद पर पानी है?

चांद का जो क्षेत्र हमेशा छाये में रहता है, वहां बर्फ के रूप में पानी भी उपलब्ध है।

11. आकार में चांद बड़ा है या सूर्य?

सूर्य चांद से करीब 400 गुना बड़ा है। लेकिन पृथ्वी से दोनों लगभग समान आकार के दिखते हैं। इसका कारण है कि सूर्य की तुलना में चांद पृथ्वी के ज्यादा करीब है।

You may have missed

error: Content is protected !!