अन्य

पेट ख़राब है तो रेल में सफ़र से पहले सोच लेना, क्योंकि अब बोगी में…

भारत में अधिकतर यात्री सड़क मार्ग की बजाय रेल से यात्रा करना सुविधा जनक मानते है। खासकर वो लोग जिन्हें अक्सर पेट ख़राब होने की शिकायत रहती है, कारण रेल की बोगियों में टॉयलेट का होना। परन्तु अब ऐसे लोगो को रेल से यात्रा करने से पहले सोचना होगा, इसका कारण है रेलवे का ट्रेनों की बोगियों से जुड़ा यह बड़ा फैसला ।

भारतीय रेलवे ने फैसला किया है कि करीब 40 हजार बोगियों में से एक-एक टॉयलेट हटाया जाएगा। इसका कारण यह हैं कि ट्रेनों में खाने की प्लेट्स और कैरेट्स को रखने के लिए को जगह नहीं होती है। इसलिए अब रेलवे की यह योजना है कि एक-एक टॉयलेट हटाकर उस जगह पर खाने की प्लेट्स और कैरेट्स को रखा जाए। ट्रेन की हर बोगी में कुल 4 टॉयलेट होते हैं, लेकिन अब इनमें से एक हटा दिया जाएगा और सिर्फ 3-3 टॉयलेट ही बचेंगे। अब करीब 40 हजार कोच को रीडिजाइन किया जाएगा, जिन्हें रीडिजाइन करने में मदद के लिए स्पेन और चीन से लोग आ रहे हैं।

भारतीय रेल में जर्मन डिजाइन से बने करीब 5 हजार एलएचबी कोच भी लगाए जाएंगे।  इन कोच में 4 टॉयलेट के अलावा खान-पान की सामग्री रखने की जगह भी होती है। रेलवे ने यह भी फैसला किया है कि अब वह भविष्य में सिर्फ एलएचबी डिजाइन के कोच ही बनाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close