अन्य

रविवार को होगा मोदी कैबिनेट में बड़ा फेरबदल, इन चेहरों की छुट्टी तय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही अपनी कैबिनेट में बदलाव करने जा रहे हैं. पहले कहा जा रहा था कि ये बदलाव शनिवार को होगा. लेकिन अब कहा जा रहा है कि यह बदलाव रविवार सुबह 10 बजे होगा. मंत्रिमंडल में जिन नए चेहरों को जगह मिल सकती हैं उनमें 5 नाम सामने आ रहे हैं. ये नाम हैं- विनय सहस्त्रबुद्धे, प्रह्लाद पटेल, ओम माथुर, प्रह्लाद जोशी और सत्यपाल सिंह.

सूत्रों की मानें, तो बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह अभी वृंदावन में हैं, शाह वहां पर संघ की बैठक में हिस्सा लेने गए हैं. शाह शनिवार शाम को दिल्ली लौटेंगे. नया मंत्रिमंडल तय होने से पहले पीएम मोदी और अमित शाह के बीच एक बार फिर शनिवार को चर्चा होगी, जिसके बाद आखिरी लिस्ट पर मुहर लगेगी.

एक बार फिर बुरे फसे लालू यादव आयकर विभाग ने मांगा रैली के खर्चे का हिसाब

अभी पीएम मोदी और अमित शाह की ओर से 2 सितंबर की शाम या फिर 3 सितंबर की सुबह का समय शपथ के लिए फिक्स किया जा सकता है. आपको बता दें कि पीएम मोदी 3 सितंबर की दोपहर को ब्रिक्स बैठक में हिस्सा लेने के लिए चीन रवाना होंगे.

PMO के ऑडिट के बाद फैसला

कहा जा रहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने सभी मंत्रियों के कामकाज का ऑडिट किया था, सभी मंत्रियों का रिपोर्ट कार्ड तैयार किया गया था. इस रिपोर्ट में मंत्रालय से जुड़ी योजनाओं को लागू करने से लेकर पार्टी की जिम्मेदारियों का लेखा जोखा है. ऑडिट के आधार पर ही कैबिनेट फेरबदल का फैसला लिया जा रहा है.

इनकी छुट्टी तय!

कहा जा रहा है कि जलमंत्री उमा भारती, राजीव प्रताप रूडी, संजीव बालियान, फग्गन सिंह कुलस्ते की छुट्टी की जा रही है. वहीं यूपी से वरिष्ठ मंत्री कलराज मिश्र का भी हटना तय है. कलराज मिश्र को किसी राज्य का गवर्नर बनाया जा सकता है.

इनका होगा प्रमोशन!

मंत्रिमंडल में कुछ मंत्री ऐसे हैं जिनके काम से पीएम मोदी काफी खुश हैं. इन मंत्रियों में पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान और प्रकाश जावड़ेकर शामिल हैं. फिलहाल जावड़ेकर के पास मानव संसाधन मंत्रालय, धर्मेंद्र प्रधान के पास पेट्रोलियम मंत्रालय और पीयूष गोयल के पास ऊर्जा मंत्रालय का जिम्मा है.

इन मंत्रालय में सबसे बड़ा बदलाव!

पिछले काफी समय से देश के बाद कोई स्थाई रक्षामंत्री नहीं है. उम्मीद जताई जा रही है कि इस फेरबदल में नया रक्षामंत्री मिलेगा, वहीं साथ में ही रेलमंत्री सुरेश प्रभु से रेल मंत्रालय छीना जा सकता है. परिवहन मंत्री को रेलमंत्रालय दिया जा सकता है, रेलवे को परिवहन मंत्रालय के साथ जोड़ा भी जा सकता है.

सुरेश प्रभु बनेंगे पर्यावरण मंत्री!

हाल ही के दिनों में लगातार बढ़ते रेल हादसों से विपक्ष के निशाने पर आए रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने पीएम मोदी के सामने इस्तीफे की पेशकश की थी. अब खबर है कि सुरेश प्रभु को पर्यावरण मंत्रालय सौंपा जा सकता है.

मिलेंगे 5 नए राज्यपाल!

केंद्र सरकार जल्द ही नए राज्यपाल के नामों का भी ऐलान कर सकती है. कलराज मिश्र को राज्यपाल बनाया जा सकता है. कहा जा रहा है कि पीएम मोदी ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ इस मुद्दे पर बैठक भी की थी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close
Open chat