राजनीति

मध्यप्रदेश: पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ समेत कांग्रेस नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज…जानें कांग्रेस का आरोप…

मध्यप्रदेश में विधानसभा की रिक्त सीटों पर होने वाले उपचुनावों के लिए चल रहे प्रसार-प्रचार के बीच पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के साथ ही अन्य कांग्रेस नेताओं के खिलाफ दतिया जिले के भांडेर में आयोजित एक जनसभा में भीड़ एकत्रित करने को लेकर मंगलवार को एफआईआर दर्ज की गई है। यह एफआईआर जिला प्रशासन द्वारा हाईकोर्ट के कोरोना की रोकथाम के लिए जारी दिशा-निर्देशों के उल्लंघन करने के लिए कराई गई है।

बता दें कि पूर्व सीएम कमलनाथ ने सोमवार को भांडेर विधानसभा क्षेत्र में पार्टी प्रत्याशी फूल सिंह बरैया के समर्थन में जनसभा को संबोधित किया था। इस दौरान भारी भीड़ उमड़ी थी, जबकि हाईकोर्ट के निर्देश हैं कि कोरोना संकट के चलते किसी भी सभा या समारोह में 100 से अधिक व्यक्ति एकत्रित नहीं हो सकते। कमलनाथ की जनसभा को लेकर भांडेर एसडीएम अरविन्द माहौर ने मंगलवार को थाने में शिकायत दर्ज कराई है। एसडीएम की शिकायत पर पुलिस ने पूर्व सीएम कमलनाथ, कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया, कांग्रेस जिलाध्यक्ष नाहर सिंह यादव, रामपाल सिंह सेंगर, नारायण सिंह, रामकुमार तिवारी, राधेलाल एवं बृजकिशोर शिवहरे व अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर मामले को जांच में लिया है।

इस मामले को कांग्रेस ने भाजपा पर प्रशासन का दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए इस एफआईआर को बदले की कार्रवाई बताया है। कांग्रेस का आरोप है कि यह कमलनाथ की लोकप्रियता से भाजपा घबरा गई है। इसीलिए शिवराज सरकार ने दबाव डालकर यह प्रकरण दर्ज करवाया है। वहीं, भाजपा प्रवक्ता दुर्गेश केसवानी का साफ कहना है कि इस समय जिले में आचार संहिता लगी हुई है और चुनाव आयोग के मार्गदर्शन में ही पूरी तरह से जिला प्रशासन काम कर रहा है। ऐसे में किसी भी प्रकार से राजनीतिक दबाव की बात करना ही मूर्खतापूर्ण बात है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close