आईसीसी वर्ल्ड कप में बदलेगी परंपरा! जीतने वाली टीम को भारत के इस महान बल्लेबाज के हाथों मिल सकती है ट्रॉफी…

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) परंपरा से हटकर इस वैश्विक संस्था के प्रमुख के बजाय किसी पूर्व दिग्गज खिलाड़ी को विश्व कप ट्रॉफी प्रदान करने के लिए आमंत्रित कर सकता है। वर्तमान परंपरा के अनुसार लॉर्ड्स में 14 जुलाई को होने वाले फाइनल के विजेता को मौजूदा चेयरमैन शशांक मनोहर को ट्रॉफी सौंपनी चाहिए। लेकिन अगर भारत के दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर या पिछली बार के विजेता कप्तान माइकल क्लार्क ट्रॉफी प्रदान करते हैं तो किसी को हैरानी नहीं होनी चाहिए। आईसीसी का यूनिसेफ के साथ समझौता है और तेंदुलकर यूनिसेफ के सदभावना दूत हैं। ऐसी भी संभावना है कि ब्रिटिश शाही परिवार का किसी सदस्य को ट्रॉफी प्रदान करने के लिए बुलाया जाए। सूत्रों के अनुसार पिछली बार 2015 में परंपरा से हटकर आईसीसी के तत्कालीन अध्यक्ष मुस्तफा कमाल के बजाय तत्कालीन चेयरमैन एन श्रीनिवासन ने ट्रॉफी सौंपी थी जिसपर काफी बवाल उठा था।’ उन्होंने कहा, ‘इस पर भी चर्चा हुई थी कि क्या कोई दिग्गज क्रिकेटर ट्रॉफी प्रदान कर सकता है क्योंकि बकिंगम पैलेस से पुष्टि मिलने में थोड़ा समय लगेगा। लेकिन हमने सुना है कि आईसीसी ने बकिंगम पैलेस में निमंत्रण भेजा है।’

रिपोर्टों के अनुसार कमाल को पिछली बार इसलिए ट्रॉफी प्रदान करने के सम्मान से वंचित किया गया था क्योंकि उन्होंने क्वार्टर फाइनल में बांग्लादेश की भारत के हाथों हार के लिए गलत अंपायरिंग को जिम्मेदार ठहराया था और अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था।

You may have missed

error: Content is protected !!