खेल

आईपीएल / 19 दिसंबर को कोलकाता में नीलामी होगी, इसके लिए फ्रैंचाइजियों को कुल 85 करोड़ रु. मिलेंगे

खिलाड़ियों की ट्रेडिंग विंडो 14 नवंबर को बंद हो जाएगी, आठों टीमों को इसकी जानकारी दी गई 

पिछले साल नीलामी के बाद दिल्ली कैपिटल्स के पास सबसे ज्यादा 8.2 करोड़ रुपए बचे थे, रॉयल चैलेंजर्स के पास सबसे कम 1.8 करोड़ 

खेल डेस्क. इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन के लिए खिलाड़ियों की नीलामी 19 दिसंबर को कोलकाता में होगी। पहली बार नीलामी की प्रक्रिया यहां होगी। खिलाड़ियों की ट्रेडिंग विंडो 14 नवंबर को बंद हो जाएगी। ईएसपीएन क्रिकइंफो के मुताबिक, आठों फ्रैंचाइजियों को ट्रेडिंग विंडो की जानकारी दे दी गई है। इस साल नीलामी के लिए कुल 85 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। ये पिछले साल से 3 करोड़ रुपए ज्यादा है।

पिछले साल नीलामी के बाद दिल्ली कैपिटल्स के पास सबसे ज्यादा 8.2 करोड़ रुपए बचे थे। वहीं, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खाते में सबसे कम 1.8 करोड़ रुपए ही बचे। इस बार फ्रैंचाइजियों को 3 करोड़ रुपए अतिरिक्त मिलेंगे। पिछले साल मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम फाइनल में पहुंची थी। तब मुंबई जीता था।

किस टीम के पास नीलामी के लिए बैलेंस में कितने रुपए

टीम बैलेंस में रुपए
दिल्ली कैपिटल्स 8.2 करोड़
राजस्थान रॉयल्स 7.15 करोड़
कोलकाता नाइटराइडर्स 6.05 करोड़
सनराइजर्स हैदराबाद 5.3 करोड़
किंग्स इलेवन पंजाब 3.7 करोड़
चेन्नई सुपरकिंग्स 3.2 करोड़
मुंबई इंडियंस 3.05 करोड़
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु 1.8 करोड़

इस बार छोटी नीलामी होगी
आईपीएल-2021 के लिए सभी खिलाड़ियों को नीलामी की प्रक्रिया से गुजरनी होगी। ऐसे में इस बार की नीलामी अपेक्षाकृत छोटी होगी। पिछली बार बड़ी नीलामी जनवरी 2018 में हुई थी। तब टीमों को सिर्फ 5 खिलाड़ी रिटेन करने की छूट दी गई थी।

दिल्ली ने रदरफोर्ड की जगह मार्कंडे को मुंबई से अपनी टीम में लिया
दिल्ली के पास सबसे ज्यादा पैसे बचे हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि वे इस बड़े खिलाड़ियों पर दांव लगाएंगे। दिल्ली की टीम ट्रेडिंग विंडो में अन्य टीमों के मुकाबले ज्यादा सक्रिय रही। श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली टीम ने वेस्टइंडीज के शेरफेन रदरफोर्ड को मुंबई को दे दिया। उनके स्थान पर स्पिनर मयंक मार्कंडे को अपनी टीम में लिया।

गांगुली ने कहा- अश्विन को अपनी टीम में शामिल करना चाहते हैं
दिल्ली की टीम पंजाब से रविचंद्रन अश्विन को भी अपनी टीम में शामिल करना चाह रही है। अश्विन को पंजाब ने 2018 में 7.6 करोड़ में खरीदा था। उन्हें टीम का कप्तान बनाया गया था। उन्होंने पिछले साल 15 विकेट लिए थे। टीम के मेंटर सौरव गांगुली भी अश्विन को अपनी टीम में शामिल करना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘हम पंजाब अश्विन को हमारी टीम में आने देती है, तो हम बहुत खुश होंगे।’

Related Articles

Back to top button
Close
Close