छत्तीसगढ़राजनीतिरायपुर

मुख्यमंत्री भुपेश बघेल ने कहा…हम प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी के पक्षधर है, मगर…देखें तीन और बड़े फैसले?…

रायपुर/ सूबे के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द ही किया जायेगा। शपथ ग्रहण के बाद मंत्रिमंडल की पहली बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तीन बड़े फैसले किये। उन्होंने रमन सरकार के कार्यकाल में हुए बड़े घोटालों को लेकर कहा कि कोई भी कार्रवाई बदले की भावना से नहीं होगी। इस पूरे मामले में कानून अपना काम करेगा। शराबबंदी के पक्षधर हैं पर फैसला एक झटके में नहीं लिया जाएगा।

सोमवार की देर रात आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों से बातचीत करते हुए भूपेश बघेल ने कहा कि जल्द ही कैबिनेट का विस्तार किया जायेगा। भूपेश बघेल ने पहली ही बैठक में अधिकारियों को इस बात के आदेश दिये हैं कि फिजुलखर्ची पर तत्काल रोक लगायी जाये।

जहां जरूरत होगी खर्च वहीं किया जायेगा। शराबबंदी को लेकर पूछे गये सवाल का जवाब देते हुए भूपेश बघेल ने कहा कि हम शराबबंदी के पक्षधर जरूर हैं पर इस पूरे मामले में एक झटके में कोई फैसला नहीं लिया जा सकता है। इसके लिए अन्य राज्यों में गयी अध्ययन दलों की रिपोर्ट का अध्ययन किया जायेगा। अन्य स्तर पर भी इसके अध्ययन के बाद ही शराबबंदी पर निर्णय लिया जायेगा।

नक्सल मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले का हल निकाला जायेगा। जंगल में दोनों तरफ से गोलियां चल रही हैं, इस मामले में जंगल में रहने वाले आदिवासी सबसे ज्यादा पीड़ित हैं। नक्सल समस्या, समाजिक, आर्थिक और राजनीतिक है।