Uncategorized

नीलगिरी तेल पी कर रेलवे महिला डॉक्टर ने कर ली खुदकुशी

नीलगिरी तेल पी कर रेलवे महिला डॉक्टर ने कर ली खुदकुशी

बिलासपुर। पति से विवाद के बाद दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे केंद्रीय अस्पताल की महिला डॉक्टर ने खुदकुशी कर ली। पुलिस के अनुसार दो दिन पहले रात में डॉक्टर ने अचानक नीलगिरी का तेल पी लिया। इससे उनकी हालत बिगड़ गई। पति ने उसे गंभीर अवस्था में रेलवे अस्पताल में भर्ती कराया। बाद में उन्हें किम्स रिफर कर दिया। यहां उपचार के दौरान सोमवार सुबह 7 बजे मौत हो गई।
तारबाहर थाने के अनुसार डॉ. करुणा श्री की 8 माह पहले रेलवे अस्पताल में पोस्टिंग हुई थी। वे हैदराबद की रहने वाली थी। पति वेंकट वीणा भी हैदराबाद में रेलवे डॉक्टर हैं। चार-पांच दिन पहले वे यहां पत्नी के पास आए थे। 23 सितंबर को पति के पैर में मोच आ गया। जिसे लेकर पत्नी ने दर्द निवारक तेल लगाने की बात कही। इससे पति नाराज हो गया। इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया। इससे पहले की पति कुछ समझ पाता पत्नी ने पास ही पड़े नीलगिरी का तेल का पी लिया। थोड़ी देर बाद हालत बिगड़ने लगी। रेलवे अस्पताल में भर्ती कराने पर डॉक्टरों ने कह दिया कि स्थिति बेहद नाजुक है। तत्काल अपोला भर्ती कराना पड़ेगा। इसके बाद उन्होंने रेफर कर दिया। करीब 24 घंटे तक उपचार के बाद भी हालत में सुधार नहीं आने की स्थिति में पति ने किम्स में भर्ती कराया। उपचार के दौरान सोमवार सुबह 7.15 बजे अचानक हालात बिगड़ी और थोड़ी देर बाद महिला डॉक्टर की मौत हो गई। तारबाहर पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। वहीं जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन को सौंप दिया गया।

सालभर पहले दोनों किया था प्रेम विवाह
पति-पत्नी दोनों हैदराबाद के रहने वाले हैं। तीन साल तक दोनों के बीच प्रेम प्रसंग चला। इसके बाद सालभर पहले परिवार की मर्जी से विवाह बंधन में बंध गए। इसी बीच करुणा श्री की दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे अस्पताल में नौकरी लग गई। करीब 8 महीने पहले हुई पोस्टिंग के बाद डॉ. करुणा बिलासपुर में ही रेलवे क्वार्टर में रह रही थी। पति वेंकट वीणा भी हैदाराबाद में रेलवे में ही डॉक्टर हैं। बीच- बीच वे पत्नी से मिलने के लिए आते थे।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Close