बिलासपुर

लाठीचार्ज मामला:पुलिसिया कार्यवाही या लोकतंत्र पर काला धब्बा- सरदार जसबीर सिंग


बिलासपुर-(ताज़ाख़बर36गढ़) गौतम बुद्ध और महात्मा गांधी के देश में इस तरह का अत्याचार नहीं चलेगा, हम सबको आजादी की इस दूसरी लड़ाई में कदम से कदम मिला कर चलना होगा। आम आदमी पार्टी द्वारा विज्ञप्ति जारी कर बताया है कि मंगलवार को कांग्रेस भवन पुलिस द्वारा बर्बरतापूर्वक घुसकर जिस प्रकार कांग्रेस नेता और कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों पर लाठी चार्ज करने का पुड़जोर विरोध किया है।

जैसा की सर्वविदित है कि कल पुलिस ने लॉ-एंड-आर्डर के नाम पर कांगेस भवन में घुस कर कांग्रेसियों को दौड़ा-दौड़ा कर जिस तरह मारा है, वह लोकतंत्र पर काला धब्बा है, इस स्थिति को देख कर नहीं लगता की अभी आजादी मिली है अंग्रेजों के समय पर जिस तरह आम हिन्दुस्तानीयो को पुलिस जिस तरह बर्बर बर्ताव करती थी वही बर्बरता आज भी हो रही है। पुलिस को कार्यवाही करनी ही थी तो प्रदर्शन के समय ही गिरफ्तारी की जा सकती थी, परन्तु ये कार्यवाही नहीं लोकतंत्र पर हमला है।

आम आदमी पार्टी इस तरह की बर्बरता कि घोर निंदा करती है यह घटना चाहे किसी भी पार्टी के कार्यकर्ताओं के पर हो, हम इस तरह की घटनाओं के विरोध करते हैं। इस तरह की परम्परा इस देश की नहीं रही है और न ही होनी चाहिए जिस भी अधिकारी से इस घटना को लेकर चर्चा हुई है, हर किसी का बस एक रटा-रटाया सा जवाब मिलता है कि मैं वहां उपस्थित नहीं था l जब कोई अधिकारी जवाबदेही लेने को तैयार ही नहीं तो किसके कहने पर ये घटना हुई ? आदमी पार्टी बिल्हा विधानसभा प्रत्याशी सरदार जसबीर सिंग ने कांग्रेस नेताओं से मिलकर घटना के विषय में चर्चा की गई।