छत्तीसगढ़राजनीति

छत्तीसगढ़: राहुल गांधी संग 3 घंटे की मुलाकात में क्या हुई बात? अटकलों के बीच सीएम भूपेश बघेल ने यह दिया जवाब…

छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री बदलने की अटकलों के बीच सीएम भूपेश बघेल ने शुक्रवार को राहुल गांधी से उनके आवास पर मुलाकात की। करीब तीन घंटे तक चली मुलाकात के बाद भूपेश बघेल ने कहा कि राहुल गांधी उनके निमंत्रण पर प्रदेश का दौरा करेंगे। बघेल ने राहुल गांधी के आवास पर उने कई दौर की मुलाकात की। इस दौरान पार्टी महासचिव प्रियंका वाड्रा, ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के जनरल सेक्रेटी केसी वेणुगोपाल और पार्टी इंचार्ज पीएल पुनिया भी मौजूद रहे।

मुझे अपने नेता से जो बताना चाहिए, मैंने सब बता दिया

मीटिंग के बाद मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि उन्होंने छत्तीसगढ़ के राजनीतिक हालात से राहुल गांधी को वाकिफ करा दिया है। साथ ही साथ कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद यहां शुरू की गई विकास योजनाओं की भी उन्हें जानकारी दी। इस दौरान जब उनसे प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि पार्टी इंचार्ज पहले ही इस बारे में बता चुके हैं। अब इस बारे में कुछ और कहे जाने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि मुझे अपने नेता से जो भी कहना चाहिए मैं सबकुछ कह चुका हूं। मैंने उन्हें राज्य की योजनाओं और पॉलिसी के बारे में भी जानकारी दे दी है। मैंने उन्हें राज्य का दौरा करने का निमंत्रण दिया और वह अगले हफ्ते छत्तीसगढ़ आएंगे।

यह भी पढ़े…छत्तीसगढ़: ढाई-ढाई साल के मुद्दे से सरकार को अस्थिर करने की कोशिश : मुख्यमंत्री भूपेश​​​​​​​ बघेल…

विधायक और मंत्री भी पहुंचे थे दिल्ली

बघेल ने कहा कि पार्टी के प्रदेश प्रभारी पिछली बार ही राज्य में नेतृत्व परिवर्तन पर स्थिति स्पष्ट कर चुके हैं। अब इस बारे में कुछ और कहने के लिए नहीं है। राज्य में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलबाजियों के बीच इस हफ्ते बघेल की राहुल गांधी से दूसरी मुलाकात है। इससे पहले मंगलवार को भी बघेल ने राहुल गांधी से मुलाकात की थी। इसके बाद बघेल ने छत्तीसगढ़ के 40 से अधिक विधायकों और मंत्रियों के साथ बैठक की। यह सभी बघेल के साथ अपनी प्रतिबद्धता को जाहिर करने के लिए यहां पहुंचे थे। इन विधायकों और मंत्रियों ने सुबह पुनिया से उनके आवास पर मुलाकात की। वहीं केसी वेणुगोपाल ने एआईसीसी के मुख्यालय में भेंट की थी। इस दौरान मुख्यमंत्री मौजूद थे।

यह भी पढ़े…स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने किया छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री की कुर्सी के ढाई-ढाई साल के कार्यकाल फॉर्मूले का खंडन…

रोटेटिंग सीएम पर बिगड़ी थी बात

इससे पूर्व मंगलवार को राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव से अलग मुलाकात की थी। बघेल और देव ने एआईसीसी जनरल सेक्रेटी केसी वेणुगोपाल ने बुधवार को मुलाकात की थी। इससे पूर्व प्रदेश में राज्य परिवर्तन की चर्चाएं काफी तेज थीं। छत्तीसगढ़ कांग्रेस में यह समस्या तब शुरू हुई जब टीएस सिंह देव ने प्रदेश में रोटेटिंग मुख्यमंत्री के समझौते की बात शुरू की थी। उनके मुताबिक 2018 के विधानसभा चुनाव के बाद प्रदेश में बारी-बारी से मुख्यमंत्री बनाने का समझौता हुआ था।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat