मनोरंजनलाइफस्टाइल

होशियार: ऑनलाइन लूडो और सांप सीढ़ी खेलने वाले हो जाएं सावधान! खानी पड़ सकती है जेल की हवा…

आजकल वक़्त काटने के लिए ऑनलाइन लूडो या सांप सीढ़ी खेलना लोगों का पसंदीदा काम बन गया है. मगर ध्यान रहे, लूडो खेलने का चस्का आपको कंगाल बना सकता है या फिर जेल के पीछे भी पहुंचा सकता है. दरअसल, ये लोकप्रिय गेम सट्टेबाजी का नया खेल बन गया है. अचानक आपको टेलीग्राम या वॉट्सऐप पर लूडो या सांप सीढ़ी के ग्रुप में एड कर लिया जाता है. फिर आप सोचते हैं कि ये तो गेम का ग्रुप है. खेलने में मजा आएगा.

मगर सावधान! ये सजा का सबब भी बन सकता है. दरअसल, देश के कई हिस्सों में ऑनलाइन लूडो और सांप सीढ़ी गिरोह एक्टिव हो चुके हैं. ऐसे सट्टेबाजों की तरीका ये है कि पहले ग्रुप एडमिन लोगों को ग्रुप में जोड़ते हैं फिर एक लिंक सेंड करते हैं. इसके बाद ग्रुप एडमिन एक कोड देता है. जिससे ग्रुप के चार लोग विभिन्न जगह पर रहकर लूडो खेलते हैं. बाकी लोग शर्त लगाते हैं कि कौन जीतेगा. जीतने वाले से एडमिन कमीशन लेता है और शर्त में लगे पैसे अलग-अलग लोगों में हार-जीत के हिसाब से बाँट दिए जाते हैं. इसी तरह सांप सीढ़ी का लिंक भी दिया जाता है और जीतने वाले पर शर्त लगाई जाती है. इन गेम्स पर हजारों रुपयों का सट्टा लगाया जाता है. ध्यान रहे कि सट्टेबाजों के ग्रुप में यदि आप फंस गए तो किसी भी वक़्त विवाद की स्थिति आउट ऑफ कंट्रोल हो सकती है और रंजिश भी हो सकती है.

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में इस तरह का गिरोह पुलिस के हत्थे चढ़ा है. पुलिस ने इस गिरोह को पकड़ने के लिए अपना मुखबिर भी ग्रुप में जोड़ा किन्तु एडमिन को संदेह हो गया तो कोड हासिल करने में सफलता नहीं मिल पाई. इसके बाद पुलिस ने एडमिन के दो साथियों को ट्रैप करने के लिए जाल बिछाया और ग्रुप एडमिन सहित दो और लोगों को गिरफ्तार कर लिया. इन पर जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है. इस मामले में पुलिस ग्रुप के बाकी सदस्यों की धरपकड़ करने में लगी हुई है

Related Articles

Back to top button
Close
Close