बिलासपुरस्वास्थ्य

बिलासपुर/ माखीजा टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर को मिली एक और बड़ी सफलता… 6 महिलाओं का दूरबीन पद्धति से सफल आपरेशन…

बिलासपुर। अग्रसेन चौक टेलीफोन एक्सचेंज रोड स्थित माखीजा टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर में बच्चेदानी व स्त्री रोगों से संबंधित 6 महिलाओं का दूरबीन पद्धति द्वारा सफल ऑपरेशन किया गया। माखीजा टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर की डॉ. प्रतिभा माखीजा ने यहां पर महिलाओं के बच्चेदानी की समस्या के अंतर्गत बच्चेदानी का गठान, बच्चेदानी में दीवार, बच्चेदानी में मस्सा, आदि बीमारियों का दूरबीन पद्धति के माध्यम से सफल ऑपरेशन किया गया।

माखीजा टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर की बांझपन विशेषज्ञ डॉक्टर प्रतिभा माखीजा के अनुसार महिलाओं को होने वाले ऐसे प्रमुख समस्याओं जैसे बच्चेदानी का गठान, बच्चेदानी में दीवार, बच्चेदानी में मस्सा, अंडाशय में गठान, अंडाशय में सिस्ट, चॉकलेट सिस्ट, बंद ट्यूब को खोलना, मासिक धर्म के दौरान अत्यधिक रक्तस्राव, बांझपन का निदान, बार-बार गर्भपात आदि बीमारियों का इलाज इस दूरबीन पद्धति से संभव है। वे महिलाएं भी जो बांझपन से ग्रसित हैं, उनके लिए लेप्रोस्कोपी बेहद सुविधाजनक प्रक्रिया होती है।

लेप्रोस्कोपी में नाभि के नीचे एक छोटा सा चीरा लगाकर दूरबीन पद्धति के द्वारा इलाज किया जाता है। इसके द्वारा गर्भाशय में गांठए अंडाशय में सिस्ट या गांठ को निकाला जाता है। जोकि महिलाओं को मां बनने में बाधक होती है। इन समस्याओं के ठीक होने के बाद गर्भधारण करने की संभावना बढ़ जाती है। इसी तरह हिस्ट्रोस्कोपी भी एक साधन है जिसमें योनि और गर्भाशय ग्रीवा के माध्यम से उपकरण को गर्भाशय में डाला जाता है। इसके द्वारा गर्भाशय की गांठए दीवार या मस्सा को निकाला जाता है। लेप्रो.हिस्ट्रोस्कोपी ; दूरबीन पद्धति से इलाज से कम दर्द, कम रक्तस्राव, कम संक्रमण व अस्पताल में कम रुकना पडता है।

स्त्री रोगों व निरूसंतानता के इलाज के लिए प्रदेश में विख्यात माखीजा टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर के डायरेक्टर डॉ ओम माखीजा के अनुसार माखीजा टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर में निरूसंतान दम्पत्तियों का सम्पूर्ण जांच व सफल इलाज की सुविधा जैसे आईवीएफ, आईयूआई, इक्सी, ब्लास्टोसिस, भ्रुण स्थानान्तरण, अंडेदान, भ्रुणदान, भ्रुण बैंक, सीमेन बैंक, लेप्रोस्कोपी व हिस्ट्रोस्कोपी आदि की सुवधाऐं उपलब्ध हैं। इसके अलावा यहां पर जर्मनी से आयातीत आधुनिक लेप्रो.हिस्ट्रोस्कोपी के उपकरण उपलब्ध हैं जिनके द्वारा इस प्रकार की सर्जरी की गुणवत्ता बढ जाती है। हॉस्पिटल में निरूसंतान दम्पत्तियों के लिए निरूशुल्क परामर्श शिविर 15 अक्टूबर तक रखा गया है। जो दम्पत्ती संतान सुख प्राप्त करने से वंचित हैं वे 8085758585 पर फोन करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।