छत्तीसगढ़रायपुर

छत्तीसगढ़: मुख्यमंत्री की घोषणा: बेमेतरा जिले मे स्थापित होगा इथेनॉल प्लांट: उप तहसील नांदघाट को तहसील का दर्जा…भिम्भोरी बनेगा उप तहसील…

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज जिला मुख्यालय बेमेतरा के ऐतिहासिक बेसिक स्कूल मैदान में आयोजित कार्यक्रम के दौरान 98 करोड़ 50 लाख रूपए के विकास कार्याे का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। इसके अलावा उन्होंने हितग्राही मूलक योजनाओं के अंतर्गत हितग्राहियों को सामाग्री का वितरण किया। मुख्यमंत्री ने बेमेतरा जिले में इथेनॉल प्लांट स्थापित करने, उप तहसील नांदघाट को तहसील का दर्जा, एवं भिंभौरी को उप तहसील बनाए जाने की घोषणा की। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश के गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने की। विशिष्ट अतिथि के रूप में कृषि, एवं पशुधन विकास, जलसंसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे, जिले की प्रभारी मंत्री अनिला भेड़िया, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री अमरजीत भगत, विधायक बेमेतरा आशीष कुमार छाबड़ा, विधायक नवागढ़ गुरूदयाल सिंह बंजारे, जिला पंचायत अध्यक्ष कविता साहू अनेक जनप्रतिनिधिगण, गणमान्य नागरिक बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

आम सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि प्रदेश सरकार अपने वायदे के मुताबिक किसानों का धान 2500 रूपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने केन्द्र से अनुरोध किया कि जिस प्रकार पूर्व में छत्तीसगढ़ का चावल लेते थे उसी तरह इस साल भी लें। केन्द्र द्वारा छत्तीसगढ़ का चावल नहीं लेने की बात की जा रही है। इस बाबत् मुख्यमंत्री बघेल द्वारा प्रधानमंत्री को चिट्ठी भी लिखी गई है। इसके अलावा केन्द्रीय खाद्य मंत्री से नई दिल्ली में मुलाकात भी कर चुके है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार आने के बाद प्रदेश में खुशहाली आई है। लोगों की आय में वृद्धि हुई है। प्रदेश में सुपोषण योजना एवं हॉट बाजार क्लिनिक योजना संचालित की जा रही है। इसके सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। महिला एवं बेटियों के लिए भी अनेक योजनाएं चलायी जा रही हैं। मुख्यमंत्री ने लोगों को भरोसा दिलाया कि बेमेतरा जिले के विकास के लिए धन की कमी आड़े नहीं आएगी।

गृहमंत्री साहू ने कहा कि बेमेतरा जिले का सुव्यवस्थित विकास किया जाएगा। बेमेतरा शहर में फोरलेन सड़क बनेगी, जिसका भूमिपूजन हुआ है। मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के तीज त्यौहारों पर अवकाश घोषित कर छत्तीसगढ़ी संस्कृति का संरक्षण का काम किया हैै। भूपेश बघेल के नेतृत्व में पिछले 11 माह में अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा वर्ग, किसान, मजदूरों की हित में अनेक कदम उठाए गये है, जो सराहनीय है। साहू ने बेमेतरा विधायक द्वारा पर्यटन विभाग की ओर से पर्यटन स्पॉट के रूप में विकसित करने की मांग के संबंध में कहा कि इसका परीक्षण कर आवश्यक कार्यवाही करायी जाएगी। कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि पिछले साल समर्थन मूल्य पर 80 लाख मेट्रिक टन धान का उपार्जन किया गया था। इस वर्ष 85 लाख मेट्रिक टन खरीदने का लक्ष्य है। किसानों को धान उपार्जन के संबंध में किसी प्रकार की चिंता करने की जरूरत नहीं है। छत्तीसगढ़ के किसान मुख्यमंत्री के साथ कंधा से कंधा मिलाकर खड़े है। कृषि मंत्री चौबे ने कहा कि भारतीय खाद्य निगम छत्तीसगढ़ की चावल नहीं खरीदना चाह रही है। उन्होंने केन्द्र से पुनः छ.ग. का चावल खरीदने का अनुरोध किया। चौबे ने लोगों से भू-जल स्तर बनाये रखने के लिए नाला का पानी नाला में रोकने का आव्हान किया।

विधायक बेमेतरा छाबड़ा ने कहा कि आज मुख्यमंत्री के करकमलों से जिले के विकास हेतु अनेक कार्याे का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया गया है। आने वाले समय में व्यवस्थित विकास दिखेगा। छाबड़ा ने बेमेतरा शहर में बॉयपास की मांग भी शीघ्र ही पूरी होने वाली है। विधायक ने खिलोरा जलाशय के सौंदर्यीकरण एवं पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने का अनुरोध किया। कलेक्टर ने प्रतिवेदन का पठन करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के द्वारा हितग्राही मूलक योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को सुपोषण किट, छोटे बच्चों का अन्न प्रासन्न, सिलाई मशीन, श्रमिकों को ई-रिक्शा, बैटरी चलित ट्रायसिकल का वितरण किया गया। नेत्रदान महादान के कुल 08 प्रकरण के साथ पूरे राज्य में धमतरी अग्रणी जिला है। बेमेतरा जिले में स्लम पट्टों का नवीनीकरण एवं नियमितीकरण किया जा रहा है। राजीव गांधी आश्रय योजना के अंतर्गत कुल 975 पट्टो का वितरण किया जाना है।