बिलासपुर

बिलासपुर: लॉकडाउन से प्रभावित गरीबों को कलेक्टर ने अपने हाथों से परोसा भोजन, सिख यूथ फेडरेशन द्वारा रखा जा रहा है प्रतिदिन लंगर

बिलासपुर। लॉकडाउन के दौरान जरूरतमदों को भोजन करा रही संस्था का उत्साह बढ़ाने के लिये कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर हनुमान मंदिर के पास, पुराना बस स्टैंड पहुंचे। उन्होंने अपने हाथों से गरीबों को भोजन भी परोसा।

नगर के युवाओं की संस्था आल इंडिया सिख यूथ फेडरेशन द्वारा लॉकडाउन के दौरान गरीब, बेघर, जरूरतमंदों को भोजन कराया जा रहा है। कलेक्टर डॉ. मित्तर ने उनके इस कार्य की प्रशंसा करते हुए प्रशासन की ओर से हरसंभव सहयोग की बात कही। लॉकडाउन के समय गरीब वर्ग को भोजन की व्यवस्था करने में कठिनाई होती है जिसके लिये सामाजिक संगठनों का प्रयास सराहनीय है। जिला प्रशासन द्वारा भी इन्हें प्रोत्साहित किया जा रहा है। कलेक्टर ने पुराने बस स्टैंड में ड्यूटी कर रहे पुलिस-मित्र (एसपीओ) से भी मुलाकात की और उनका उत्साहवर्धन किया।

सिख यूथ फेडरेशन सड़क पर ड्यूटी करने वाले पुलिस जवानों और वालेन्टियर्स को भी प्रतिदिन चाय बिस्किट की सेवा दे रहे हैं वहीं पुराना बस स्टैंड के पास रहने वाले गरीब व भूखे लोगों को भोजन भी कराया जा रहा है। प्रतिदिन लगभग 100 लोग इसका लाभ ले रहे हैं। फेडरेशन द्वारा सड़क पर घूमने वाले पशुओं को भी आहार उपलब्ध कराया जा रहा है। फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष सरदार सतवीर सिंह ने बताया कि लंगर का मकसद है कि कोई भी व्यक्ति भूखा न सोये।

इस अवसर पर एसडीएम देवेन्द्र पटेल, फेडरेशन के प्रदेश उपाध्यक्ष सरदार करण सिंह, जिलाध्यक्ष जसमीत सिंह एवं संस्था के पदाधिकारी उपस्थित थे।