पुलिसबिलासपुर

बिलासपुर: कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अभय नारायण राय ने पुलिस अधीक्षक से की मुलाकात…दिया जांच में सहयोग का अस्वासन…

बिलासपुर। डकैती डलवाने का आरोप लगने के बाद कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अभय नारायण राय बुधवार को अपनी बात रखने एसपी कार्यालय पहुंचे। एसएसपी से मिलकर उन्होंने जांच में पूरा सहयोग करने का अस्वासन दिया। राय ने कहा कि टाकेश्वर पाटले ने जो शिकायत किया है उस पर निष्पक्ष जांच होनी चाहिए बहुत जरूरी है कि पर्दे के पीछे छुप कर साजिश रचने वाले बेपर्दा हों।

मंगलवार को पीड़ित टाकेश्वर पाटले ने कांग्रेस के प्रवक्ता अभय नारायण राय पर डकैती डलवाने का संदेह जताते हुए उनसे पूछताछ करने की मांग एसएसपी पारुल माथुर से की थी। इधर राय ने कल ही इस घटना से किसी भी तरह से संबंध होने को सिरे से खारिज कर दिया था। लेकिन बुधवार को दोपहर वे खुद पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच गए और उनके सामने अपनी बात रखी।

यह भी पढ़े…डकैती कांड में टाकेश्वर पाटले का अभय नारायण राय पर बड़ा आरोप…अभय बोलें मेरा अपराध के दुनिया से कोई लेना देना नही…

बताया जा रहा है कि एसएसपी से मुलाकात के दौरान उन्होंने इस घटना में किसी भी तरह की संलिप्तता से इनकार किया साथ ही जांच में पूरा सहयोग करने का अस्वाशन दिया है। साथ उन्होंने टाकेश्वर पाटले के आवेदन पर बारीकी से जाँच कर स्वयं पर लगे आरोप का भी निष्पक्ष जाँच कराने की मांग की है। एसएसपी कार्यालय से बाहर निकलने बाद एक बार फिर मीडिया से बात करते हुए अभय नारायण राय ने कहा कि मुझ पर लगा आरोप एक साजिश है, मेरा अपराध व अपराधियों से कोई लेना देना नही है।

पुलिस मुझे जहाँ जैसे बुलाएगी मैं आने को तैयार हूँ। आरोप लगाने वाले कि मंशा क्या है मेरे सोच से परे है। यह मेरा व्यक्तिगत मामला है इसका जवाब भी मैं व्यक्तिगत रूप से दूँगा। इस विवाद को पार्टी से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। गौरतलब है कि 13 जनवरी को दर्रीघाट में कांग्रेस के जिला सचिव टाकेश्वर पाटले के घर दिन दहाड़े डकैती हुई थी। घटना में 7 लोग शामिल है जो मोटर साइकिल में आए और चाकू की नोक पर लूट की घटना को अंजाम दे देकर चले गए थे। घटना के बाद पुलिस आरोपियों की सरगर्मी से तलाश में कर रही है।

Youtube