छत्तीसगढ़रेलवे

10 महीने की बच्ची को रेलवे में मिली नौकरी, सैलरी के साथ मिलेंगी सारी सुविधाएं…रेलवे का इतिहास फैसला…

रेलवे की नौकरी हर कोई चाहता है, लेकिन सभी को इसमें सफलता नहीं मिलती है। छत्तीसगढ़ के रायपुर मंडल में रेलवे की इतिहास का पहला ऐसा मामला सामने आया है, जहां 10 महीने की छोटी बच्ची को रेलवे की नौकरी मिली है। भले ही आपको हैरानी हो रही हो, लेकिन बात बिल्कुल सच है। रेलवे के रायपुर मंडल ने 10 महीने की छोटी सी बच्ची को रेलवे में नौकरी दी है। रायपुर रेल मंडल के कार्मिक विभाग ने इस बच्ची की नियुक्ति के लिए रजिस्ट्रेशन किया है।

10 महीने की बच्ची को रेलवे की नौकरी

रेलवे की ओर से ये जानकारी सामने आई है, जिसके मुताबिक रायपुर मंडल के इतिहास में यह पहला मौका है, जब इतने छोटे बच्चे को नौकरी दी गई है। बच्ची का फिलहाल माइनर रजिस्ट्रेशन किया गया गया है। जब बच्ची बालिग होगी तो उसे नौकरी के साथ-साथ वो तमाम सुविधाएं मिलेंगी, जो रेलवे कर्मचारियों को मिलती है।

अनुकम्पा नियुक्ति के लिए रजिस्ट्रेशन

दरअसल बच्ची के पिता राजेन्द्र कुमार पीपी यार्ड भिलाई में सहायक पद पर कार्यरत थे, लेकिन एक सड़क हादसे में राजेन्द्र और उनकी पत्नी की मौत हो गई। माता-पिता की मौत के बाद बच्ची को अनुकम्पा नियुक्ति रेलवे की ओर से मिलेगी, जिसके लिए उसका रजिस्ट्रेशन करवाया गया है। बच्ची इतनी छोटी है कि कि वो खुद पंजीकरण नहीं कर सकती, इसलिए अधिकारियों की मौजूदगी में अंगूठा लगाकर नौकरी के लिए उसका पंजीकरण करवाया गया।

बालिग होने पर ज्वाइनिंग

रेलवे के वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी उदय कुमार भारती ने कहा कि बच्ची बालिग होने के बाद रेलवे की नौकरी ज्वाइन कर सकती है। ड्यूटी ज्वाइन करने के बाद उसे तय सैलरी और पद के मुताबिक सभी सुविधाएं मिलेगी। फिलहाल बच्ची के भविष्य को देखते हुए उसकी नौकरी रेलवे में पक्की करने के लिए ये पंजीकरण करवाया गया है। रेलवे ने बच्ची के पालन-पोषण के लिए हर संभव मदद का भरोसा दिया है। वहीं परिवारवालों से उसकी देखभाल और पढ़ाई पर ध्यान देने की बात कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.