दुनिया

क्या पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने परमाणु बम बनाने का फॉर्मूला चुराया? FBI की रेड को लेकर बड़ा खुलासा…

अमेरिकी अखबार वाशिंगटन पोस्ट ने गुरुवार को खुलासा किया है, कि डोनाल्ड ट्रंप के निजी आवास पर एफबीआई की छापेमारी के पीछे परमाणु हथियार से संबंधित दस्तावेज हैं। रिपोर्ट में कहा गया है, कि एफबीआई के एजेंट डोनाल्ड ट्रंप के घर परमाणु हथियारों से संबंधित दस्तावेजों की तलाशी के लिए गये थे, जिसके बाद सवाल उठ रहे हैं, कि क्या डोनाल्ड ट्रंप ने परमाणु बम बनाने का फॉर्मूला चुरा लिया था?

क्या बरामद किए गये दस्तावेज?

हालांकि, वॉशिंगटन पोस्ट ने ये भी कहा है, कि ये दस्तावेज बरामद किए गये या नहीं, इसके बारे में अभी तक जानकारी नहीं है। आपको बता दें कि, एफबीआई ने पाम बीच पर स्थिति पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के मार-ए-लागो रिसॉर्ट पर छापेमारी की थी, जिसको लेकर अमेरिका में बवाल मचा हुआ है। वहीं, अमेरिकी जस्टिस डिपार्टमेंट ने अब एफबीआई से उस वारंट को दिखाने के लिए कहा है, जिसके आधार पर एफबीआई ने दावा किया था, कि वो मार-ए-लागो रिसॉर्ट पर छापेमारी के लिए अधिकृत थी। वहीं, डोनाल्ड ट्रंप के साथ ही उनकी रिपब्लिकन पार्टी ने इस छापेमारी को राजनीतिक प्रतिशोध बताया है। वहीं, जस्टिस डिपार्टमेंट के वारंट सार्वजनिक करने के आदेश के बाद अब जनता जल्द ही इस बारे में अधिक जान सकती है कि पूर्व राष्ट्रपति के घर की अभूतपूर्व खोज के दौरान जांचकर्ता क्या खोज रहे थे?

क्या ट्रंप ने अवैध रूप से रिकॉर्ड हटाए?

एफबीआई के मुताबिक, यह तलाशी अभियान इस बात की जांच का हिस्सा थी, कि क्या डोनाल्ड ट्रम्प ने जनवरी 2021 में पद छोड़ने के दौरान व्हाइट हाउस से अवैध रूप से रिकॉर्ड हटा दिए थे, जिनमें से कुछ का मानना ​​है, कि वो दस्तावेज क्लासीफाइड थे। वहीं, अमेरिका के अटॉर्नी जनरल और शीर्ष कानून प्रवर्तन अधिकारी, मेरिक गारलैंड, जिनके ताल्लुक राष्ट्रपति जो बाइडेन और उनकी डेमोक्रेटिक पार्टी से है, उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, कि उन्होंने व्यक्तिगत रूप से सर्च अभियान को मंजूरी दी थी। वहीं, न्याय विभाग ने कहा है, कि डोनाल्ड ट्रंप के घर से जो भी चीजें जब्त की गई हैं, उन्हें सार्वजनिक किया जाए। वहीं, अमेरिकी अधिकारियों का कहना है, तलाशी के दौरान जो भी चीजें मिली हैं, उन्हें सार्वजनिक करने का आदेश देना, एक बेहद असामान्य फैसला है। अमेरिकी कानून प्रवर्तन अधिकारी आम तौर पर लोगों के अधिकारों की रक्षा के लिए चल रही जांच पर चर्चा नहीं करते हैं।

करीब 10 बॉक्स किए गये हैं बरामद

वहीं, मामले से वाकिफ एक सूत्र ने बताया कि, एफबीआई ने तलाशी के दौरान ट्रंप की संपत्ति से करीब 10 बॉक्स बरामद किए हैं। वहीं, एफबीआई ने जिस वक्त डोनाल्ड ट्रंप के रिसॉर्ट पर छापा मारा, उस वक्त वो फ्लोरिडा में नहीं थे। गुरुवार की देर रात ट्रंप ने तलाशी से जुड़े दस्तावेजों को तत्काल सार्वजनिक करने का आह्वान किया है। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि, ‘मैं फ्लोरिडा में पाम बीच पर स्थित अपने मार-ए-लागो रिसॉर्ट पर गैर-अमेरिकी, अनुचित, अनावश्यक छापेमारी, तोड़फोड़ कर जब्त किए गये दस्तावेज को सार्वजनिक करने के फैसले का विरोध नहीं करूंगा। मैं एक कदम और आगे बढ़कर इस फैसले का साथ दूंगा, कि छापेमारी में जो भी चीजें जब्त की गई हैं, उन्हें तत्काल सार्वजनिक किया जाए। एफबीआई को कट्टरपंथी वामपंथी डेमोक्रेट्स ने उकसाया है और ये बदले की कार्रवाई है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.