अन्य

टीवी पर शो शुरू होने से चंद मिनट पहले आई मां के निधन की खबर, एंकर ने पूरी की रिकॉर्डिंग, सभी कर रहे तारीफ…

ओडिशा में एक टीवी एंकर के जज्बे की सभी प्रशंसा कर रहे हैं। दरअसल राज्य के मशहूर ओडिया चैनल OTV के एंकर मनोरंजन जोशी को अपने मां के देहांत का उस वक्त पता चला जब वो टीवी पर एक टॉक शो की शुरुआत करने वाले थे। दरअसल स्टूडियो में जब मनोरंजन जोशी इस शो के लिए बैठे थे तब वो अपने फोन को एयरप्लेन मोड में डालने ही वाले थे कि तब ही उन्हें अपने मोबाइल पर यह खबर मिली कि उनकी 73 साल की मां सरजू का निधन हो गया है। मनोरंजन जोशी को उस वक्त उनके एक दोस्त ने फोन कर बताया कि उनकी मां को कार्डिएक अरेस्ट हुआ था और अस्पताल ले जाते वक्त एंबुलेंस में उनकी मौत हुई है।

मनोरंजन जोशी उस वक्त कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तारा प्रसाद बाहिनीपति का साक्षात्कार करने बैठे थे। मां के निधन की खबर सुनने के बाद मनोरंजन जोशी थोड़ी देर के लिए हताश हो गये। शो में मौजूद कांग्रेस नेता औऱ वहां मौजूद पत्रकार के अन्य साथियों ने उन्हें सलाह दी कि वो अभी इस हालत में शो ना करें, लेकिन दुखी होने के बावजूद मनोरंजन जोशी ने यह इंटरव्यू किया।

ओटीवी के न्यूज एडिटर राधा माधव मिश्रा ने कहा कि ‘मनोरंजन जोशी ने प्रोफेशनलिज्म का उदाहरण पेश किया है। वो इसे रद्द कर सकते थे, लेकिन उन्होंने वहां मौजूद लोगों से कहा कि शो जारी रहना चाहिए। उन्हें पता था कि यह शो प्लान किया गया था और उनके आंसू इंतजार कर सकते हैं। जिस तरह से एक पत्रकार डेडलाइन में अपना काम पूरा करते हैं और विपरित परिस्थितियों में काम करते हैं, ज्यादातर लोग पत्रकारों को उनके काम के लिए प्रशंसा नहीं करते। लेकिन मनोरंजन ने जो किया उसपर हम सभी को गर्व है।

सोशल मीडिया पर मनोरंजन जोशी को जानने वाले लोग उनके इस कर्तव्यनिष्ठा की जमकर प्रशंसा कर रहे हैं। कई ट्विटर यूजर्स ने कहा कि ऐसा कर उन्होंने अपनी मां को श्रद्धांजलि दी है। वहीं टॉक शो में हिस्सा लेने वाले कांग्रेसी नेता ने भी मनोरंजन जोशी की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनकी इच्छाशक्ति गजब की है। उनकी मां का देहांत हो गया और उन्होंने शो को जारी रखा। उन्होंने भावुकता को अपने ऊपर हावी नहीं होने दिया। मैं भगवान जगन्नाथ से प्रार्थना करता हूं कि उनकी मां की आत्मा को शांति मिले। भगवान उन्हें और उनके परिवार के सदस्यों को शक्ति प्रदान करें।

मनोरंजन जोशी ओटीवी से 10 सालों से ज्यादा समय से जुड़े हुए हैं। वो अब वेस्टर्न ओडिशा के ब्यूरो प्रमुख भी हैं। मनोरंजन जोशी ने कहा कि जब उन्होंने अपनी मां के देहांत की खबर सुनी तब यह उनकी जिंदगी का सबसे दुखद क्षण था। उन्होंने कहा कि ‘एक समय के लिए मुझे महसूस हुआ कि मेरे पांव तले जमीन खिसक गई है। मेरी आंखे भर आई थीं। लेकिन तब मैंने सोचा कि वो चाहती हैं कि मैं अपना काम पूरा करूं। मैंने सोचा कि इस टॉक शो को जारी रखना ही उन्हें सबसे अच्छी श्रद्धांजलि होगी।’

जोशी ने कहा कि जब यह शो रिकॉर्ड किया जा रहा था तब उन्होंने काफी कोशिश की थी कि वो शो पर फोकस करें और इसके लिए उन्हें काफी संघर्ष भी करना पड़ा। ‘उन्होंने मुझे और मेरे तीन भाइयों को पाला और हमें आजादी दी कि हम अपने सपनों को पूरा कर सकें। वो हमारी सपोर्ट सिस्टम थीं। मुझे नहीं पता कि मैंने कैसे यह शो रिकॉर्ड किया।’

आपको याद दिला दें कि इससे पहले साल 2017 में भी एक ऐसी ही घटना सामने आई थी। उस वक्त IBC24 चैनल की न्यूज एंकर सुप्रीत कौर एंकरिंग कर रही थीं और एक सड़क हादसे की खबर सामने आई। इस हादसे में उनके पति की मौत हो गई थी लेकिन सुप्रीत कौर ने हादसे की खबर को बिना रुके बड़े ही प्रोफेशनल अंदाज में पढ़ा था। काम के प्रति उनकी निष्ठा को देख कर उनके साथी दंग रह गए थे।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat