देशशिक्षा

CBSE 10th 12th Exam : अब नहीं मिलेंगे कम मार्क्स, उत्तर पुस्तिका चेकिंग में सीबीएसई करेगा ये 5 बदलाव…

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 2020 बोर्ड परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी है। 2020 बोर्ड परीक्षा के बाद मूल्यांकन प्रक्रिया में सुधार हो, इसके लिए शिक्षकों को निर्देश जारी किये जा रहे हैं। 10वीं और 12वीं की कॉपी जांच के दौरान परीक्षक को एक उत्तर को तीन बार पढ़ना होगा। हर उत्तर के सामने तीन बार हस्ताक्षर भी करना होगा। कोई भी उत्तर बिना जांच के नहीं रहे, इसके लिए हर उत्तर के सामने परीक्षक को मार्क करने का निर्देश दिया गया है।

2. इसके अलावा 2020 के मूल्यांकन में कॉपी की संख्या भी कम की गई है। बोर्ड की मानें तो अब तक अधिकतम 30 उत्तर पुस्तिकाओं की जांच एक दिन में एक परीक्षक को करनी होती थी लेकिन अब यह संख्या 20 कर दी गयी है। हर एक कॉपी में शिक्षक अधिक से अधिक समय दें, इसके लिए कम से कम कॉपियों का मूल्यांकन एक दिन में किया जायेगा।

3. ज्ञात हो कि 2020 बोर्ड परीक्षा के बाद मूल्यांकन की अवधि भी बढ़ाई जायेगी। जिस दिन जिस विषय की परीक्षा समाप्त होगी, उसके एक सप्ताह के अंदर मूल्यांकन शुरू हो जायेगा।

4. प्रायोगिक परीक्षा की कॉपियों की होगी जांच

बोर्ड की मानें तो प्रायोगिक परीक्षा की कॉपियों की भी जांच होगी। चूंकि 2020 से प्रायोगिक परीक्षा का होम सेंटर खत्म किया जायेगा। दूसरे केंद्र पर प्रायोगिक परीक्षा ली जायेगी। ऐसे में उसी केंद्र के शिक्षक प्रायोगिक परीक्षा की कॉपी जांच करेंगे। अभी तक प्रायोगिक परीक्षा के लिए अंक स्कूल स्तर पर ही आयोजित प्रायोगिक परीक्षा के दौरान एक्सटर्नल द्वारा दिए जाते थे लेकिन अब इंटर्नल द्वारा दूसरे स्कूल के शिक्षक देंगे।

5. कॉपी चेक करने वाले टीचर को हर उत्तर के सामने तीन बार हस्ताक्षर भी करना होगा।

डा. संयम भारद्वाज (परीक्षा नियंत्रक, सीबीएसई) ने कहा- मूल्यांकन में गड़बड़ी होने के कारण ही रिजल्ट खराब होता है। पिछले दो साल से ऐसे कई मामले सामने आये हैं जब छात्रों को कम अंक मिले हैं। इसकी मुख्य वजह सही से मूल्यांकन नहीं होना है। इसमें सुधार किया जायेगा।