छत्तीसगढ़बिलासपुरस्वास्थ्य

बिलासपुर: गुपचुप खाने से 1 बच्ची की मौत 4 की हालत गंभीर 25 से अधिक लोग हुए फूड प्वॉइजनिंग के शिकार…

बिलासपुर। बिल्हा ब्लाक के ग्राम देवकीरारी में फूट पॉइजनिंग की वजह से बच्चों सहित 25 से अधिक लोग बीमार हो गए। गंभीर रूप से बीमार लोगों को बिल्हा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से बीमार दो बच्चों को सिम्स बिलासपुर लाकर भर्ती कराया गया। इसमें से एक बच्ची ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

बिल्हा के ग्राम देवकीरारी में रविवार को एक व्यक्ति गुपचुप बेच रहा था । उससे बच्चों सहित कई ग्रामीणों ने गुपचुप और चांट खाए। शाम को गांव के कई लोगों को उल्टी होने लगी। आनन-फानन में सभी को उपचार के लिए बिल्हा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। इसमे से 2 बच्चों की हालत गंभीर होने पर सोमवार को बिल्हा स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों ने उन्हें उपचार के लिए सिम्स बिलासपुर रेफर किया। जहां उपचार के दौरान 9 वर्षीय मीनाक्षी कोशले पिता चंद्रप्रकाश कोशले की मौत हो गई। वहीं उसकी बड़ी बहन 11 वर्षीय साक्षी कोशले पिता चंद्रप्रकाश कोशले की हालत चिंताजनक बनी हुई है। बच्ची की मौत का खबर परिजनों को मिलते ही उन्होने हंगामा मचाना शुरू कर दिया। परिजनों को समझाइस दी जिसके बाद परिजनों ने हंगामा मचाना बंद किया।

परिजनों ने बताया 20 से अधिक बीमार लोगों को बिल्हा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। इसके अलावा दो बच्चों को गंभीर हालत में इलाज के लिए केयर एंड क्योर हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है।

इनकी अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा इलाज

बीमार ग्रामीणों में रीना (23), दिक्षा (17), मनोरमा (20), दिप्ती (12), दिलेश्वरी(28), अभिलाषा (10), शुभांगी (10), कैलाश (8), हेमलता (37), हेमा बंजारे (44), कुंती बंजारे (30), लक्ष्मीकांत (10), चंद्रकांत (16), गगन (12), मिनाक्षी (9), रोशनी (8), दिलेश्वरी (20), अर्चना (38), संजुलता बंजारे (30) हंशिका बंजारे (18)

सीएमएचओ डॉक्टर महाजन जाना हालचाल

सीएमएचओ डॉक्टर प्रमोद महाजन बिल्हा स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे. जहाँ उन्होंने मरीजों और उनके परिजनों से चर्चा की। डॉक्टरों से मरीज के उपचार के सम्बंध में जानकारी ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.