लाइफस्टाइल

क्या आप ऑनलाइन शॉपिंग के इन नुकसानों से हैं अवगत

क्या आप ऑनलाइन शॉपिंग के इन नुकसानों से हैं अवगत

आजकल ऑनलाइन शॉपिंग का बहुत अधिक चलन है और काफी लोग तोऑनलाइन शॉपिंग करना ज्यादा पसंद करते हैं जिसकी वजह है कि उन्हें भटकना नहीं पड़ता और घर बैठे सारी चीजे आसानी से मिल जाता है। लेकिन ऑनलाइन शॉपिंग का ट्रेंड जैसे-जैसे बढ़ रहा है वैसे ही इसमें कई सारे मामले ऐसे सामने आ रहे हैं जिनमें कस्टमर के साथ धोखा हुआ है और बहुत ज्यादा नुकसान भी। ऑनलाइन शॉपिंग करने से आप बाज़ार में लगने वाला समय तो बचा लेते हैं लेकिन कई सारी परेशानियों में फंस जाते हैं। आइये जानते हैं ऑनलाइन शॉपिंग के नुकसान।

नहीं आता सही प्रोडक्ट

ऐसे कई सारे केस सामने आये हैं जिनमें ग्राहक ने सामान कुछ और मंगवाया था लेकिन डिलीवरी किसी और सामान की हुई। मोबाइल मंगाने पे साबुन की टिकिया निकलना, जूते मंगवाने पे चार्जर निकलना जैसे कई सारे मामले हमने अखबारों में पढ़े और देखे हैं। इसीलिए ऑनलाइन सामान खरीदने का सबसे बड़ा नुकसान यही हैं की आपको सही सामान मिलने की गारंटी नहीं होती। असल में दिक्कत ये होती है की जहाँ ऑफलाइन में आप अपने आँखों और हाथों से देख परख कर सामान खरीदते हैं वहीँ ऑनलाइन में आप एक फोटो को देखकर सामान खरीद लेते हैं। इसी वजह से ऑनलाइन शौपिंग में फोटो किसी और चीज़ की और सामान हाथ में कोई और।

डिलीवरी का समय

जब हम सामान आर्डर कर रहे होते हैं तो डिलीवरी का समय बहुत ही कम दिखाया जाता है। आर्डर करते वक़्त तो हम एक या दो दिन का डिलीवरी टाइम देख कर आर्डर कर देते हैं लेकिन सामान आर्डर करने के बाद यह हफ्तों तक नहीं आता है और हम परेशान होते रहते हैं। ज्यादातर कंपनी द्वारा दी गई सामान ट्रैकिंग की सुविधा भी केवल नाम मात्र की होती है।

वापस करना मुश्किल काम

सामान गलत आने की स्थिति में हम इसे लौटाते हैं लेकिन ऑनलाइन शॉपिंग करने से यह प्रोसेस बहुत कठिन हो जाती हैं। अगर आपको सामान पसंद नहीं आया तो इसे लौटने के लिए आपको कई सारे प्रोसेस फालो करने पड़ते हैं जिसमे आपको दिक्कत होती है।

संतोषजनक नहीं

जब हम दुकान से सामान लेते हैं तो हम उसे अच्छे से चेक करते हैं और उसकी क्वालिटी देख सकते हैं लेकिन ऑनलाइन की स्थिति में ऐसा नहीं हैं। आप केवल सामान की फोटो देख सकते हो और कंपनी द्वारा बताया गया सामान का विवरण पढ़ सकते हो जो की काफी हद तक सही नहीं होता और ऐसे में हमें सामान खरीदते वक्त संतोष नहीं होता हैं।

फर्जीवाड़ा

कई सारी ऐसी वेबसाइट हैं जो की लोगो से पैसे तो ले लेती हैं लेकिन उनका सामान डिलीवर नहीं होता और वो परेशान होते रहते हैं इसीलिए फ्रॉडसाइट्स कोपहचानने का सही तरीका अवश्य ध्यान रखें।

कई बार सामान महंगा होता है

हम औरो से सुनते हैं की ऑनलाइन चीज़ें दुकान में रखी हुई चीज़ों से सस्ती होती है जबकि ऐसा हर वक़्त नहीं होता है। कुछ चीज़ें ऐसी भी होती हैं जो की बाज़ार में और सस्ती मिलती हैं लेकिन ऑनलाइन महंगी मिलती है लेकिन हम बाज़ार का रेट ना पता करके ऑनलाइन मगा लेते हैं।