सुप्रीम कोर्टस्वास्थ्य

NEET – PG 2022 परीक्षा टालने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार , याचिका खारिज

डॉक्टरों की परीक्षा NEET- PG 2022 के संबंध में अहम फैसला आया है. देश के स्वास्थ्य इंतजामों और मरीजों की देखभाल में कमी आने की आशंका को ध्यान में रखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने NEET- PG 2022 की परीक्षा टालने से आज इनकार कर दिया. इस बाबत दाखिल याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी. अब 21 मई को ही NEET- PG 2022 परीक्षा होगी. सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि परीक्षा टालना अराजकता और अनिश्चितता पैदा करेगा. यह स्वास्थ्य इंतजामों को भी प्रभावित करेगा।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि परीक्षा की तैयारी करने वाले दो लाख से अधिक छात्रों के लिए परेशानी खड़ा करेगा. उनमें असमंजस पैदा करेगा. इस स्वास्थ्य इंतजाम का ढांचा लड़खड़ा सकता है. अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी भी होगी. चूंकि ये सरकार की पॉलिसी का मामला है. इसलिए इसमें कोर्ट दखल नहीं देगी।

याचिका में कई गई थी ये मांग

कोर्ट में ऑल इंडिया मेडिकल स्टूडेंट्स एसोसिएशन ने NEET -PG 2021 के लिए चल रही काउंसलिंग के साथ टकराव का हवाला देते हुए 21 मई को होने वाली स्नातकोत्तर (NEET- PG ) 2022 परीक्षा टालने की मांग की थी. याचिका में कहा गया था कि 2021 की मेडिकल पीजी प्रवेश प्रक्रिया अब तक जारी है. इसलिए 2022 की परीक्षा को कुछ समय के लिए टाल दिया जाए।