छत्तीसगढ़

सिर्फ वोट के लिए छत्तीसगढ़ी संस्कृति ना अपनाएं, RSS से बोले सीएम भूपेश- कौशल्या माता मंदिर चलें, गोठानों भी देखें…

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत 6 दिनों के दौरे पर रायपुर आ रहे हैं। उनके दौरे को लेकर छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने...

रायपुर। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत 6 दिनों के दौरे पर रायपुर आ रहे हैं। उनके दौरे को लेकर छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि मोहन भागवत समेत RSS और भारतीय जनता पार्टी के कई नेता छत्तीसगढ़ आ रहे हैं। उनका स्वागत है। मुझे जानकारी मिली है कि उन्हें छत्तीसगढ़िया पकवान चौसेला, चिला, फरा परोसा जाएगा। यह छत्तीसगढ़िया संस्कृति की जीत है। मैं उम्मीद करता हूं कि सभी छत्तीसढ़िया संस्कृति को आत्मसात करें। सीएम भूपेश ने कहा कि छत्तीसगढ़ में वोट लेने के लिए छत्तीसगढ़ियापन को न अपनाएं।

रायपुर में मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में 15 साल तक भाजपा की सरकार रही, लेकिन वो कौशल्या माता का मंदिर और राम वनगमन पथ भी नहीं बना पाए। अब तक राम के नाम पर, गाय के नाम पर RSS और भाजपा सिर्फ राजनीति करती रही हैं। मैं उन्हें निमंत्रण देता हूं कि कौशल्या माता के दर्शन को चलें। छत्तीसगढ़ आ रहे हैं तो गोठानों का भी जायजा ले लें। हमारे स्वामी आत्मानांद अंग्रेजी स्कूल भी देखें। सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि यदि छत्तीसगढ़ी संस्कृति को अपना रहे हैं तो सिर्फ वोट के लिए ना अपनाएं।

6 दिनों तक रायपुर में रहेंगे RSS प्रमुख मोहन भागवत

बता दें कि RSS प्रमुख मोहन भागवत मंगलवार की शाम ट्रेन से रायपुर पहुंचेंगे। वे 6 दिनों तक राजधानी में रहेंगे। 7, 8 और 9 सितंबर को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की अखिल भारतीय निर्णायक टोली और 10, 11 और 12 सितंबर को अखिल भारतीय समन्वयक की बैठक रखी गई है। निर्णायक टोली की बैठक में केवल 12 पदाधिकारी शामिल होंगे, जो 10 सितंबर से होने वाले 3 दिवसीय बैठक के आयोजन के संबंध में चिंतन करेंगे। बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और राष्ट्रीय संगठन महामंत्री शामिल होंगे। छत्तीसगढ़ भाजपा की कोर ग्रुप की बैठक में भी जेपी नड्डा शामिल होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.