देश

देश: 2019 में 90 हज़ार युवाओं ने की आत्महत्या, नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) की रिपोर्ट में सामने आई ये वजह…

देश में आत्महत्या की घटनाएं बढ़ती ही जा रही हैं। ऐसे में नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) ने ख़ुदकुशी से जुड़े कुछ आंकड़े जारी किए हैं, जो हैरान करने वाले हैं। NCRB की रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2019 में 1.39 लाख से अधिक लोगों ने आत्महया की है. NCRB की रिपोर्ट के अनुसार, 2019 में जितनी आत्महत्या की घटनाएं हुईं, उनमें 67 फीसद युवा वयस्क (18-45 आयुवर्ग) के थे.

NCRB रिपोर्ट “एक्सीडेंटल डेथ एंड सुसाइड इन इंडिया 2019’’ के अनुसार 2019 में लगभग 1.39 लाख लोगों ने आत्महत्या की है, जिनमें से 93,061 युवा वयस्क थे. यदि 2018 के आंकड़ों से इसकी तुलना करें तो युवाओं के आत्महत्या करने की वारदातें एक वर्ष में 4 फीसदी बढ़ी हैं. 2018 में 89,407 युवाओं ने आत्महत्या की है. जहां तक सभी आयुवर्गों में खुदकुशी की घटनाओं को देखा जाए तो इसी मियाद में ये 3.4 फीसदी बढ़ीं. आत्महत्या के लिए फांसी लगाना सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला तरीका है. 2019 में 74,629 लोगों (53.6%) ने फांसी लगा कर आत्महत्या की है. बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत इस वर्ष 14 जून को मुंबई में बांद्रा स्थित अपने अपार्टमेंट में गले में फंदा डाल कर सीलिंग फैन से लटके पाए गए. सुशांत की मौत आत्महत्या थी या नहीं ये तो जांच पूरी होने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा. किन्तु उनकी मौत ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया.

23 अगस्त को CBI टीम ने जांच के लिए सुशांत के फांसी लगाने के घटनाक्रम का एक डमी टेस्ट किया. यदि सुशांत की मौत की जांच में ये सामने आता है ​कि अभिनेता ने फांसी लगाकर खुदकुशी की तो उनका नाम भी ऐसी कई जानेमाने लोगों की फेहरिस्त में शामिल हो जाएगा, जिन्होंने खुद ही अपनी जिंदगी का त्याग कर दिया. इनमें अभिनेत्री जिया खान भी शामिल हैं, जो 2013 में अपने घर में मृत पाई गई थीं.