देश

सुशांत केस की सीबीआई जांच कर रही एसआइटी टीम में दिग्गज एक्सपर्ट शामिल…जानिए क्या है खासियत

सुशांत सिंह राजपूत केस में अब नए खुलासे होने वाले है। इस मामले की जांच करने के लिए सीबीआई की टीम मुंबई पहुंच चुकी है.

सुशांत सिंह राजपूत केस में अब नए खुलासे होने वाले है। इस मामले की जांच करने के लिए सीबीआई की टीम मुंबई पहुंच चुकी है। जांच के लिए देश की इस शीर्ष जांच एजेंसी के पास पूरा ऐक्शन प्लान तैयार है।

आपको बता दे कि , ये वो टीम है, जिसने विजय माल्या और अगस्ता वेस्टलैंड जैसे मामलों की जांच की है। अब इस टीम के साथ वो फॉरेंसिक एक्सपर्ट भी जुड़ गए हैं, जिन्होंने सुनंदा पुष्कर और शीना बोरा जैसे मामलों की जांच की है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सीबीआई की जांच टीम में अब टॉप फॉरेंसिक डॉक्टर सुधीर गुप्ता भी शामिल हो चुके हैं। इसके अलावा सीबीआई की स्पेशल इन्वेस्टिगेटिव टीम (एसआईटी) ये पता लगाने की कोशिश करेगी कि सुशांत ने आत्महत्या की थी, या फिर कोई और वजह थी। इसके लिए एसआईटी क्राइम सीन री-क्रिएट करने की कोशिश करेगी। इस दौरान सुशांत की अटॉप्सी, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अलावा ‌फॉरेंसिक रिपोर्ट की जांच भी की जाएगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुंबई में एसआईटी की टीम को गुरुवार को पहुंचकर जांच शुरू कर दी है। बताया ये भी जा रहा है कि टीम ने मुंबई पुलिस से सुशांत केस की फाइल्स और सभी सबूतों भी मांगे हैं। इसके अलावा पहले चरण की जांच में 6 लोगों से सवाल-जवाब किए गए हैं। हालांकि, इस बारे में सीबीआई की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

एसआईटी टीम इसलिए है खास

-मनोज शशिधर गुजरात कैडर के 1994 बैच के आईपीएस अफसर हैं। जनवरी में ही सीबीआई के जॉइंट डायरेक्टर बनाए गए हैं। पहले विजय माल्या केस की जांच की निगरानी कर चुके हैं।

-गगनदीप गंभीर गुजरात कैडर की 2004 बैच की आईपीएस अफसर हैं और सीबीआई में उन्हें घोटालों की जांच में महारथी माना जाता है।

-नुपूर प्रसाद 2007 बैच की एजीएमयूटी कैडर की आईपीएस अधिकारी हैं। सीबीआई की तेजतर्रार महिला अधिकारियों के रूप में गिना जाता है।

-डीएसपी अनिल कुमार यादव मध्यप्रदेश से हैं। मध्यप्रदेश के व्यापमं घोटाले से जुड़े लोगों की मौत की जांच उन्होंने ही की है। यादव कॉमनवेल्थ घोटाले और अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले जैसे हाई-प्रोफाइल मामलों में भी जांच टीम का हिस्सा रहे हैं।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat