क्राइमबिलासपुर

बहुचर्चित विराट अपहरण कांड के सभी दोषियों को मिली आजीवन कारावास की सजा, बड़ी मम्मी थीं मास्टर माइंड…

6 वर्षीय मासूम विराट अपने दोस्तों के साथ खेल रहा था। इसी बीच कार से आये दो लोगो ने उसका अपहरण कर लिया। विराट के अपहरण होने के बाद पूरा सराफ परिवार एक...

बिलासपुर। करबला रोड स्थित भाजपा कार्यालय के पास से विवेक सराफ बर्तन व्यवसायी के पुत्र का 19 अप्रैल 2019 को हुए बहुचर्चित विराट सराफ अपहरणकांड की मास्टरमाइंड विराट की बड़ी मम्मी नीता सराफ सहित अन्य चार अपहरणकर्ताओं को प्रथम अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सुनील कुमार जायसवाल ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है।

बतादें की 19 अप्रैल 2019 को कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत भाजपा कार्यालय के पास 6 वर्षीय मासूम विराट अपने दोस्तों के साथ खेल रहा था। इसी बीच कार से आये दो लोगो ने उसका अपहरण कर लिया। विराट के अपहरण होने के बाद पूरा सराफ परिवार एक हो गया। जिसमे नीता सराफ जो कि विराट की रिश्ते में बड़ी मम्मी लगती है वो भी हर वक्त विराट के घर पर रहकर उसके माता-पिता को सम्हालती रही और किचन का भी काम करती रही। कुछ दिनों बाद जब फिरौती के लिए कॉल आया और विराट के पिता ने इतनी बड़ी रकम देने में असमर्थता जाहिर की तब अपहरणकर्ताओं ने एक के बाद एक उसके रिश्तेदारों के नाम गिनाकर उनसे पैसे मांगने कहा। तब पुलिस के शक की सुई सीधे विराट के रिश्तेदारों पर घूमी।

इधर विराट की तलाश के बाद पुलिस को सुराग मिला और रिंग रोड़ नम्बर दो में स्थित एक घर पर छापामार कर पुलिस ने विराट को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ा लिया। एक अपहरणकर्ता से पूछताछ के बाद एक के बाद एक सभी अपहरणकर्ता पकड़े गये और इस पूरे कांड का खुलासा करते हुए पुलिस ने विराट की बड़ी मम्मी को अपहरणकांड का मास्टरमाइंड बताया और 6 करोड़ रुपए फिरौती मांगने की सलाह दी थी।

सभी को कोर्ट में पेश किया गया जहां से नीता सराफ और अन्य सभी अपहरणकर्ताओं को जेल भेज दिया गया था। आज अपहरण मामले में राजकिशोर सिंह सतीश शर्मा, हरेकृष्ण राय व अनिल सिंह राजपूत को जिला न्यायालय ने सभी अपहरणकर्ताओ को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *