देश

कंगना और अर्नब गोस्वामी के खिलाफ महाराष्ट्र विधान परिषद के अध्यक्ष ने विशेषाधिकार हनन के प्रस्ताव को स्वीकार किया…

मुंबई की तुलना पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) से करने पर कंगना रनौत की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। उनके साथ-साथ महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे को इंटरव्यू के लिए चुनौती देने वाले टीवी पत्रकेकार और रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन- चीफ अर्नब गोस्वामी खिलाफ भी महाराष्ट्र विधान परिषद के अध्यक्ष रामराजे नाइक ने विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव स्वीकार कर लिया है।

अर्नब गोस्वामी पर उद्धव ठाकरे के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का आरोप लगाते हुए शिवसेना की मनीषा कायंदे ने विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव पेश किया। दूसरी तरफ कंगना के खिलाफ कांग्रेस विधायक अशोक (भाई) जगताप ने मुंबई को लेकर अपमानजनक टिप्पणी का आरोप लगाते हुए विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव पेश किया, जिसे रामराजे नाइक ने स्वीकार किया। उन्होंने कहा, ‘मैंने विशेषाधिकार हनन के प्रस्ताव को स्वीकार किया है। इसके लिए समिति न होने की वजह से मैं ही आज इस प्रस्ताव पर फैसला करने जा रहा हूं।’

दरअसल, बीते दिनों कंगना रनौत ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर यानी पीओके से की थी। कंगना ने ट्विटर पर लिखा था, ‘संजय राउत ने मुझे खुलेआम धमकी दी है और मुंबई नहीं आने को कहा है। मुंबई की गलियों में आजादी के भित्ति चित्र और अब खुली धमकी, मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर जैसी फ़ीलिंग क्यों दे रहा है?’

टीवी पत्रकार अर्नब गोस्वामी ने अपने प्रोग्राम में उद्धव ठाकरे को डिबेट की खुली चुनौती दी थी। अर्नब सुशांत सिंह केस पर टीवी डिबेट में संजय राउत पर भी जमकर गरजे थे और उन्हें भी इंटरव्यू के लिए खुली चुनौती दी थी।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat