देशलाइफस्टाइल

देश में तेजी से बढ़ रहा है नकली नोटों का व्यापार! कहीं आपके पास तो नहीं है 2000 और 500 रु के नकली नोट, ऐसे करें पहचान

देश में नकली नोटों का व्यापार रुकने का नाम नहीं ले रहा है। जानकारी के अनुसार 10 जून को एक बार फिर पुणे में करीब 10 करोड़ रुपये के नकली नोट पकड़े गए हैं। पकड़े गए नोट 2000 और 500 रुपये के नकली नोट हैं। यूं तो सरकार ने फेक करेंसी पर रोक लगाने के लिए पुराने बड़े नोटों की जगह नए नोट लाने का फैसला किया था। लेकिन इसके बावजूद भी बाजार में फेक करेंसी पर पूरी तरह लगाम नहीं लगाई जा सकी है। ऐसे में जरूरी है कि आपको पता हो कि असली और नकली नोटों में क्या अंतर है। अगर यह सावधनी रखी जाए तो आप अपना नुकसान बचा सकते हैं। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं कि कैसे 2000 और 500 रुपए के असली नोट को पहचाने…

2000 के नोट असली हैं या नहीं, ऐसे पहचानें

-आरबीआई द्वारा जारी किए गए नोटों के सिक्योरिटी थ्रेड पर तीन शब्द लिखे होंगे- भारत, RBI और 2000।  और नोट को हल्का से मोड़ने पर इस थ्रीड का कलर हरा से नीला हो जाता है।

2000 के नोट का बेस कलर मैजेंटा है और इसका साइज 66 मिमी गुणा 166 मिमी है। नोट के फ्रंट पर महात्मा गांधी और पीछे की तरफ मंगलयान की तस्वीर लगी है।


-1 नोट को लाइट के सामने रखने पर यहां 2000 लिखा दिखेगा।

-2 आंख के सामने 45 डिग्री के एंगल पर रखने पर यहां 2000 लिखा दिखेगा।

-3. नोट के बाई ओर देवनागरी में उसकी कीमत लिखी होती है और एक वॉटरमार्क भी होता है।

-4 सेंटर में महात्मा गांधी की तस्वीर है।

-5 छोटे-छोटे अक्षरों में RBI और 2000 लिखा है।

-7 गारंटी क्लॉज, गवर्नर के सिग्नेचर, प्रॉमिस क्लॉज और आरबीआई का लोगो दाहिनी तरफ है।

-8 यहां महात्मा गांधी की तस्वीर और इलेक्ट्रोटाइप (2000) वाटरमार्क है।

-9 ऊपर में सबसे बाईं तरफ और नीचे में सबसे दाहिने तरफ लिखे नंबर बाएं से दाएं तरफ बड़े होते जाते हैं।

-10 यहां लिखे नंबर 2000 का रंग बदलता है।  इसका कलर हरा से नीला हो जाता है।

-11 दाहिनी तरफ अशोक स्तम्भ है।

-12 दाहिनी तरफ आयताकार बॉक्स जिसमें 2000 लिखा है।

-13 दाहिनी और बाईं तरफ सात ब्लीड लाइंस हैं जो खुरदरे हैं।

पीछे की तरफ

-14 नोट की प्रिंटिंग का साल लिखा हुआ है।
-15 स्लोगन के साथ स्वच्छ भारत का लोगो।
-16 सेंटर की तरफ लैंग्वेज पैनल।
-17 मंगलयान का नमूना।

दृष्टिहीनों के लिए

महात्मा गांधी की तस्वीर, अशोक स्तम्भ के प्रतीक, ब्लीड लाइन और पहचान चिन्ह खुरदरे से हैं।

नकली नोट रखना और चलाना अपराध है।

देश के कानून के हिसाब से नकली नोट रखना और उसे चलाना अपराध है। ऐसे में अगर आपके पास भी कहीं से यह नकली नोट आ गया है तो इसकी जानकारी अपने बैंक या पुलिस को लिखित में दे सकते हैं। हालांकि कई लोग ऐसे नोट पुलिस के चक्कर में पड़ने की जगह नष्ट कर देते हैं। हालांकि अगर आप नकली नोटों की जानकारी बैंक या पुलिस को देंगे तो इससे नकली नोटों के सौदागरों को पकड़ना आसान हो सकता है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close