अन्य

अभिनेता सोनू सूद के सेक्रेटरी ने खर्च पूछा तो वन विभाग ने पकड़ लिया बंदर, जानिये पूरा मामला

अभिनेता सोनू सूद को बंदर पकड़ने के लिए सोहसा मठिया गांव के युवक द्वारा किया गया ट्वीट भले ही सोशल मीडिया पर मजाक का पात्र बन रहा मगर इसका असर हो गया है। अभिनेता के सेक्रेटरी ने वन विभाग के अधिकारियों को फोन करके बन्दर पकड़वाने के लिए खर्च होने वाला पैसा पूछते हुए खाता नम्बर मांगा।इस पर विभाग ने मामले को स्वयं संज्ञान लेते हुए बन्दर पकड़वाने मौके पर पहुच गई। बुधवार को बंदर को पकड़ कर कुसम्ही जंगल गोरखपुर में छोड़ दिया गया।

लॉकडाउन के वक्त सोशल मीडिया पर लगातार एक्टिव रहने वाले फिल्म अभिनेता सोनू सूद ने कई प्रांतों में हजारों की संख्या में फंसे प्रवासी मजदूरों को घर तक भिजवाने में मदद की थी। ट्विटर पर उनका जवाब देना आज भी जारी है। कुशीनगर जिले के रामकोला थाना क्षेत्र के सोहसा मठिया निवासी ट्विटर पर बासु गुप्ता नामक यूजर ने सोनू सूद को ट्वीट करते हुए गांव में आतंक मचा रहे एक बंदर को पकड़वाने की मांग की थी।

सोनू सूद ने भी मजेदार अंदाज में जवाब दिया था और कहा था कि ‘बस अब बंदर पकड़ना ही बाकी रह गया था दोस्त, पता भेज, यह भी करके देख लेते हैं’। इसके बाद यूजर ने पता भेजा। जिसके बाद अभिनेता के सेक्रेटरी ने वन विभाग के अफसरों को फोन कर बंदर पकड़वाने में आने वाले खर्च का विवरण मांगा।

इसका असर यह हुआ कि वन विभाग हरकत में आ गया और दुदही की मुबारक अली की टीम को मौके पर भेजकर बंदर पकड़ने का निर्देश दिया। टीम मौके पर पहुंच गयी और बंदर को पकड़ कर कुसम्ही जंगल में छोड़ आयी। माना जा रहा है कि लाज बचाने के लिए विभाग ने ऐसा किया है। अभी तक कही भी विभाग बन्दर नहीं पकड़ा है।

उच्चाधिकारियों के निर्देश पर रेंजर कसया अखिलेश दुबे के नेतृत्व में टीम भेजकर बंदर को पकड़वाया गया। उसे कुसम्ही जंगल में छोड़ा गया है। इस बंदर को पकड़ने पर कोई खर्च नहीं लगा है।

-घनश्याम शुक्ला, कार्यवाहक उप प्रभागीय वनाधिकारी

Related Articles

Back to top button
Close
Close
Open chat