क्राइमपुलिसबिलासपुर

बिलासपुर: सरकारी नौकरी और अविवाहित होने का झांसा देकर युवती से कर ली शादी…आईजी के पास न्याय मांगने पहुंची पीड़िता…

बिलासपुर/ पहली पत्नी के रहते एक व्यक्ति ने खुद को अविवाहित बताकर एक कुंवारी लड़की से शादी कर ली। कुछ दिनों के बाद पता चला तो पति पत्नी को घर से जाने पर गोली मारने और खुद ही आत्महत्या करने की धमकी देने लगा। न्याय मांगने पहुंची पीड़ित महिला को तखतपुर पुलिस ने भगा दिया। पीड़ित महिला ने गुरुवार दोपहर अतिरिक्त आईजी प्रतिभा तिवारी को आपबीती सुनाई।

मप्र के उमरिया जिल के नरोजबाद निवासी श्वेता कश्यप की शादी 25 जून 2018 को बिलासपुर के काठाकोनी निवासी गोविंद कौशिक से हुई थी। शादी के पहले लड़के ने बताया था कि वह शिक्षाकर्मी वर्ग एक है और अविवाहित है। लड़की पक्ष ने लड़के के पास-पड़ोस में पतासाजी की तो लड़के की बात सही निकली। ससुराल आने के कुछ दिनों के बाद श्वेता को उसका पति और सास-ससुर दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे। कुछ दिनों के बाद पता चला कि गोविंद पहले से शादीशुदा है। वह पहली पत्नी को ससुराल में छोड़ आया है। जब श्वेता ने पहली पत्नी के बारे में पूछताछ की तो पति गोविंद ने उसकी पिटाई कर दी। फिर आए दिन शराब पीकर पिटाई करने लगा। धमकाने लगा कि यदि वह उसे छोड़कर जाएगी तो वह गोली मार देगा और खुद ही आत्महत्या कर उसके घरवालों को फंसा देगा। पीड़ित महिला के अनुसार गोविंद शिक्षाकर्मी वर्ग एक नहीं है। वह आउट सोर्सिंग में अतिथि शिक्षक बना है। अंबिकापुर में वह ड्यूटी करता है।

तीन महीने से घुमा रही तखतपुर पुलिस

पीड़ित महिला का आरोप है कि वह तीन महीने से जालसाज और चारसौबीस पति गोविंद को सजा दिलाने के लिए तखतपुर पुलिस का चक्कर काट रही है। तखतपुर पुलिस उसकी रिपोर्ट लिखने के बजाय महिला थाना का रास्ता दिखाती है। महिला थाने में भी उसने आवेदन दिया था, जहां से उसे कहा गया कि यह मामला 420 है। इसलिए तखतपुर पुलिस ही कार्रवाई करेगी।

शुक्रवार को पीड़िता की लिखी जाएगी रिपोर्ट

महिला श्वेता की आपबीती सुनने के बाद अतिरिक्त आईजी तिवारी ने तखतपुर टीआई को फोन लगाया और मामले के संबंध में पूछताछ की। उन्होंने महिला की रिपोर्ट नहीं लिखने पर टीआई को फटकार भी लगाई। टीआई ने अब रिपोर्ट लिखाने के लिए पीड़िता को शुक्रवार को थाने बुलाया है।