अन्य

जानिए ओबामा के इस ट्वीट ने दुनिया में क्यों मचा दी हैं खलबल जिससे बन गया इतिहास

बराक ओबामा भले ही अब अमेरिकी राष्ट्रपति पद पर नहीं है लेकिन उनके जैसा राजनेता आज के दौर में कोई नहीं है। यह एक बार फिर साबित हुआ है उनके एक ट्वीट से, जिसने वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है। ओबामा ने एक ट्वीट किया हैं जो ट्विटर के इतिहास में अब तक का सबसे ज्यादा बार लाइक किया जाना वाला ट्वीट बन गया है। इससे पहले की आप सोच में पड़ जाए कि आखिर क्यों ओबमा के इस ट्वीट ने इतिहास रच दिया है तो चलिए हम आपको बताते हैं कि आखिर क्या हैं मामला जिसकी वजह से यह ट्वीट पांच दिन के बाद भी वायरल हो रहा है। बराक ओबामा के इस ट्वीट ने रचा इतिहास दरअसल अमेरिका के वर्जीनिया राज्य में इन दिनों दो ग्रुप के बिच हिंसा चल रही है। एक ग्रुप है सफेद राष्ट्रवादी और दूसरे विरोध प्रदर्शनकारी। सफेद राष्ट्रवादी, गोरे अमेरिकी हैं और विरोध प्रदर्शनकारी, नाजी । इन दोनों के बीच नस्लीय हिंसा अपने चरम पर है, जिसमें कई लोग मारे भी जा चुके हैं। पूरे अमेरिका में यह आंदोलन अब धीरे-धीरे नफरत, कट्टरता और हिंसा का रूप ले रहा है। हाल के दिनों में अमेरिका में जब से नस्लवादी हमले शुरू हुए है तभी से पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा सोशल मीडिया और अलग समारोह के माध्यम से देश में शांति की अपील कर रहे हैं। इस बार 12 अगस्त को ओबामा एक ऐसा खुबसूरत ट्वीट किया जिसने ट्विटर के सारे रिकॉर्ड धराशाही कर दिए। इस ट्वीट में ओबामा ने नेल्सन मंडेला की एक लाइन को शेयर करते हुए एक फोटो अपलोड की हैं। जिसमें वे एक डे-केयर सेंटर के बाहर खिड़की से झांकते बच्चों को देखकर मुस्कुरा रहे हैं। तस्वीर में तीन बच्चे हैं, जिनके शरीर का रंग सफेद, सांवला और काला है।ओबामा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘कोई भी किसी दूसरे व्यक्ति की त्वचा के रंग या उसकी पीढ़ियों या उसके धर्म से नफरत करते हुए पैदा नहीं होता’। मंडेला की इन पंक्तियों को और डे-केयर सेंटर के बाहर खड़े ओबमा की तस्वीर वाले इस ट्वीट को अब तक 37 लाख बार लाइक किया जा चुका है। वहीं, 14 लाख लोगों ने इस रीट्वीट भी किया है। यह ट्विटर के इतिहास में अब तक का सबसे ज्यादा बार लाइक करने वाला ट्वीट बन गया है। आपको बता दें कि यह तस्वीर 2011 की है जब ओबामा मैरीलैंड के बेथेस्डा स्थित डे-केयर सेंटर पहुंचे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.