छत्तीसगढ़ज़िला प्रशासनबिलासपुर

बिलासपुर: कोल माफियाओं पर खनिज विभाग की ताबड़तोड़ कार्रवाई… कोयला लदे दो हाइवा समेत अवैध परिवहन करते 17 वाहन जब्त…जानिए कहां जा रहा था कोयला…

बिलासपुर। खनिज विभाग ने दो दिनों के छापे में 17 वाहनों को गौण खनिज का अवैध परिवहन करते हुए पकड़ा है। इनमें दो हाइवा में कोयला लदा हुआ था। एक वाहन में सिरगिट्‌टी से कोयला भरकर जबलपुर ले जाया जा रहा था। महज कुछ हजार रुपए की रायल्टी बचाने के चक्कर में अब कोल माफियाओं को डेढ़ से दो लाख रुपए पेनाल्टी जमा करनी होगी।

कलेक्टर डॉ. संजय अलंग के आदेश पर खनिज विभाग के उप संचालक डॉ. दिनेश मिश्रा ने खनिज के अवैध परिवहन पर रोक लगाने दिन-रात छापेमारी का प्लान बनाया है। इसके तहत मुखबिर भी तैनात किए गए हैं। उप संचालक डॉ. मिश्रा के निर्देश पर बीते तीन दिनों में असिस्टेंट माइनिंग आफिसर अनिल साहू के नेतृत्व में टीम ने सिरगिट्टी, सकरी, खमतराई, सरकंडा, उसलापुर और तिफरा क्षेत्र में छापे मारे। इस दौरान टीम ने खनिज का अवैध परिवहन करते हुए 17 वाहनों को पकड़ा है।

इनमें गिटटी भरे 4 वाहन, रेत भरे 4 वाहन और मिट्‌टी-मुरुम का अवैध परिवहन करने वाले 7 वाहन शामिल हैं। मिट्‌टी लोड वाहनों को जुर्माना पटाने पर छोड़ दिया गया है। उप संचालक डॉ. मिश्रा का कहना है कि जिले में कोयला का काला धंधा करने वाले अब नहीं बख्शे जाएंगे। अभी कोयला के अवैध परिवहन को रोकने पर फोकस किया जा रहा है। इसके बाद अवैध डिपो की बारी आएगी।

सिरगिट्‌टी से जबलपुर ले जाया रहा था कोयला

असिस्टेंट माइनिंग आफिसर अनिल साहू ने बताया कि टीम ने सिरगिट्‌टी क्षेत्र में जब दबिश दी तो कोयला लोड एक हाइवा खड़ा मिला। पास में एक युवक था। पूछताछ करने पर वह उसी हाइवा का खलासी निकला। रायल्टी पर्ची मांगने पर वह गोलमोल जवाब देने लगा। ड्राइवर के बारे में भी वह कुछ नहीं बता पाया। साहू के पूछने पर उसने बताया कि यह कोयला जबलपुर ले जाया जा रहा था। रायल्टी पर्ची नहीं मिलने पर टीम ने 19 टन कोयला लोड हाइवा को जब्त कर सिरगिट्‌टी थाने में खड़ा करा दिया है।

असिस्टेंट माइनिंग आफिसर साहू ने बताया कि कोयला एक वाहन को हिर्री क्षेत्र में पकड़ा गया, जो तौल कराने धर्मकांटा जा रहा था। रायल्टी पर्ची नहीं होने पर 12 टन कोयला लोड हाइवा को चकरभाठा थाने में खड़ा कराया गया है। उन्होंने बताया कि कोयला का अवैध परिवहन करने वाले वाहनों पर कम से कम एक लाख रुपए पेनाल्टी तय की गई है। इसके अलावा कोयले के बाजार मूल्य और रायल्टी को मिलाकर जुर्माना किया जाता है। इस हिसाब से 19 टन कोयला लोड हाइवा पर डेढ़ से दो लाख रुपए पेनाल्टी हो सकती है। फिलहाल, कार्रवाई के लिए फाइल उप संचालक डॉ. मिश्रा को पेश की जाएगी।

Related Articles

Back to top button
Close
Close